अंततः कृषि उव संचालक  गुप्ता भी किये गये निंलबित, नकली बीज कारोबार में निंलबन का आंकडा पहुंचा  6 पर

मयंक शर्मा
खंडवा १२ जून ;अभी तक;  नकली बीज के मामले में अब कृषि उप संचालक आरएस गुप्ता  को निलंबित का दिया गया है। इसके पूर्व बीज निगम के पांच अधिकारी निंलंबित किये जा चुके है।
                  किसान कल्याण और कृषि विभाग द्वारा शुक्रवार को जारी आदेश अनुसार खंडवा के उपसंचालक, कृषि आरएस गुप्ता को अस्थायी रूप से भोपाल अटैच किया है। वहीं अलीराजपुर के उपसंचालक केसी वास्केल को खंडवा का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। पिछले शुक्रवार (4 जून) को इंदौर संभागीय टीम ने कृषि मंत्री कमल पटेल के निर्देश पर खंडवा में अनेक फमों पर  नकली बीज को लेकर छापामार कार्रवाई की थी।
                 खंडवा के ग्राम बावड़िया काजी में बालाजी सीड्स, पांझरिया के प्रगति एग्रो सीड्स पांजरिया और दोंदवाडा की उत्तम सीड्स  के पास सोयाबीन बीज के नकली टैग बड़ी मात्रा में पकड़ाए थे। कृषि विभाग के अफसरों ने प्रगति एग्रो सीड्स पर एफआईआर भी  दर्ज कराई है। नकली बीज कारोबार मामले में बीज निगम के यहां पदस्ळा 5 अफसरों के निलंबन किया गया था। इनसभी को  भोपाल अटैच कर दिया गया है। नकली बीज कारोबार
मामले में जिले के प्रभारी एवं उप बीज प्रमाणीकरण अधिकारी पीपी सिंह  ,
सहायक बीज प्रमाणीकरण अधिकारी राजाराम बडोले, जयंत कुल्हारे, सुरेश
कुमार, एवं अखिलेश चैहान को निलंबित किया गया है।
भारतीय किसान संगठन के जिला संयोजक सुभाष पटेल ने कहा कि नकली बीज का
कारोबार में ं किसानों के साथ धोखाधड़ी हो रही है। सरकार और कृषि मंत्री
माफिया पर रासुका लगाने की बात करते हैं, लेकिन अभी ऐसी कार्रवाई देखने
को नहीं मिली है। बीज माफिया पर रासुका लगाई जाए, अन्यथा  किसान संघ
आंदोलन  करेंगा।
उल्लेखनीय है कि दविश को करीब एक सप्ताह से अधिक समयबीत गया है लेकिन तीन
फर्मों पर हुई कार्रवाई का अब तक खुलासा नहीं हो पाया है। किसानों का
कहना है कि तीनों बीज माफिया पर रासुका लगाकर कृषि मंत्री अपने वादे को
पूरा करें।