अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा गांव-गांव चलाया जा रहा है नशा मुक्ति अभियान 

7:57 pm or May 23, 2022
महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर २३ मई ;अभी तक;  अखिल विश्व गायत्री परिवार शाखा मंदसौर द्वारा लगातार दूसरे सप्ताह गांव बादरी, इटायली, हैदरवास, खिलचीपुरा, चंद्रपुरा आदि गांवों में नशामुक्ति रैली निकाली।
                नशे से तबाह परिवारों को बचाने के लिए गायत्री परिवार ने लगातार मंदसौर क्षेत्र के आस-पास के गांव में नशा मुक्त गांव का संकल्प लेकर जन जागृति फैलाई जा रही है। साथ ही प्रशासन से मांग की है आज हर परिवार के अंदर कोई न कोई व्यक्ति नशे की गिरफ्त में आ चुका है सारे अपराधों की जड़ नशा है, इसलिये इस पर प्रतिबंध लगाया जाए।
                  पूर्व डाइट अध्यापक अशोक धनोतिया द्वारा गांव बादरी में अपने संबोधन में कहा हर परिवार के अंदर आज व्यक्ति तंबाकू से बीड़ी सिगरेट से शराब से पीड़ित हो चुका है और सरकार को शराबबंदी करना ही चाहिए। आज जितने भी अपराध होते हैं, जेलों के अंदर अपराधी से यदि पूछा जाता है वहां यह जरूर बताता है वह कोई ना कोई नशा अवश्य करता है। इस नशे के कारण परिवारों की जमीन बिक रही है, बच्चे पढ़ाई से दूर हो रहे हैं, घर की आर्थिक स्थिति कमजोर हो रही है।
                नशे की इस रैली में मुख्य नारे लगाए गए ‘‘बीड़ी पी कर खास रहा है मौत के आगे नाच रहा है’’, ‘‘पीटती -पत्नी बिकते जेवर छोड़ शराबी अपने तेवर’’ जैसे नारों के साथ ‘‘नशा नाश की जड़ है भाई इसने ही सब आग लगाई’’ नारों से पूरे क्षेत्र के अंदर जन जागृति फैलाई गई।
                       अखिल विश्व गायत्री परिवार के पवन गुप्ता, सुशील कुमार, डॉ वेदपालसिंह, रेखा सिंह, परशुराम ने नशे के बारे में आने वाले समय में होने वाले नुकसान के बारे में बताया गया छोटे-छोटे बच्चों ने मिलकर पूरे गांव के अंदर नारे लगाकर अपने बच्चों को बचाने के लिए गांव गांव के अंदर बाल संस्कार शाला खोलने का भी लक्ष्य रखा गया। अखिल विश्व गायत्री ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मांग की है अभी समय है यदि मध्यप्रदेश को बचाना है तो सबसे पहले शराबबंदी की जाना चाहिए। यदि शराबबंदी नहीं की गई तो आने वाले समय में कई बहनें विधवा हो जाएंगी और इसका दोष प्रशासन को लगेगा। गांव में जमीन बिक रही है लगातार मध्य प्रदेश में अपराध बढ़ रहे हैं इन सब अपराधों के अंदर सबसे ज्यादा नशे में लिप्त लोग ही इसके दोषी हैं धार्मिक संस्थाएं और संगठन जन जागृति फैला सकती है और परिवारों को बचाने के लिए हाथ जोड़कर प्रार्थना कर सकती है लेकिन शासन को कठोर कदम उठाने होंगे। माननीय मुख्यमंत्री से गायत्री परिवार ने प्रार्थना की है कि सब कुछ पूर्ति आप की घाटे की हो जाएगी जितना पैसा आप अपराध रोकने के लिए लगाते हो उससे कहीं ज्यादा पैसा अपराध पर रोकने में खर्च होता है यदि आपने शराबबंदी कर दी उस कई माताएं बहने अपने सुहाग को बचा लेंगे। अखिल विश्व गायत्री परिवार पूरे भारत के अंदर गांव-गांव नशा मुक्ति अभियान चलाएगा। इस अभियान में प्रशासन के सहयोग की अपेक्षा करता है। कलेक्टर महोदय आने वाली जन जागृति रैली में शासन के लोगों को भी जुड़ेगा इसकी प्रार्थना भी डॉ वेद पाल सिंह द्वारा की गई। गायत्री परिवार के 25 कार्यकर्ताओं ने प्रति रविवार 3 गांव जन जागृति रैली हेतु रखे हैं। यह जानकारी युवा प्रकोष्ठ के प्रभारी पवन गुप्ता ने दी।