अगले साल ही होगा पंचायत चुनाव के लिए मतदान

मयंक भार्गव

बैतूल २५ नवंबर ;अभी तक;  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कमलनाथ सरकार के समय किए गए पंचायत के परिसीमन को रद्द करते हुए वर्ष 2019-20 के परिसीमन के आधार पर पंचायत चुनाव करवाने की घोषणा के बाद पंचायत चुनाव की सरगर्मिया तेज हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा पुरानी स्थिति के हिसाब से पंचायत चुनाव की तैयारी करने के निर्देश देने के साथ ही पंचायतों की मतदाता सूची का संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम जारी कर दिया है। जिसमें 6 दिसंबर को पंचायत चुनाव के लिए मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन करना है। इसके बाद ही पंचायत चुनाव की घोषणा होगी। जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि भले ही पंचायत चुनाव की घोषणा दिसंबर माह में हो जाए लेकिन मतदान अगले साल जनवरी 2022 में ही होंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा पुराने परिसीमन के हिसाब से पंचायत चुनाव करवाने के निर्देश देने के बाद राज्य निर्वाचन द्वारा पंचायत चुनाव पुरानी स्थिति के हिसाब से पंचायत चुनाव करवाने के निर्देश दिये है। इसके बाद मतदाता सूची का संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम जारी किया गया है। जिसमें पूर्व परिसीमन के आधार पर नए क्षेत्र विभाजन का चिन्हांकन करते हुए पंचायत वार वार्ड विभाजन का आभार पत्रक 25 नवंबर 2021 तक तैयार किया जाना है। आधार पत्रक के अनुसार चिन्हित किए गए। मतदाताओं को क्षेत्रवार कंट्रोल टेबल में शिफ्ट करने की कार्यवाही 26 नवंबर तक पूरी करना है।

29 नवंबर को होगा फोटो रहित मतदाता सूची का प्रकाशन

पुर्निरक्षिक कार्यक्रम में 29 नवंबर को फोटो रहित मतदाता सूची का प्रकाशन ग्राम पंचायतों और चिन्हित स्थानों पर किया जाएगा। मतदाताओं को परिसीमन के आधार पर यथा स्थान शिफ्ट करने की कार्यवाही पर दावे- आपत्ति 29 नवंबर से 3 दिसंबर तक किए जाएंगे। 4 दिसंबर तक दावे आपत्ति का निराकरण किया जाएगा। इसके बाद 6 दिसंबर को फोटो युक्त मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा।

जनवरी के पहले नहीं होगा मतदान

जानकारों के अनुसार पंचायत चुनाव कम से कम तीन चरण में होंगे। इन तीन चरणों के साथ ही जनपद और जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव तक लगभग दो माह का समय लगेगा। पंचायत चुनाव मतदाता सूची पुर्निरक्षिक कार्यक्रम की घोषणा हो गई है जिसमें अंतिम प्रकाशन 6 दिसंबर को होगा। इसके अनुसार 6 दिसंबर के पूर्व पंचायत चुनाव की घोषणा नहीं होगी। यदि 7 दिसंबर को भी पंचायत चुनाव की घोषणा हुई तो पहले चरण का मतदान जनवरी माह में होगा।