अज्ञात वाहन के टक्कर से तेंदुआ की मौत, पानी की तलाश मे जंगलो से सडक पर आ रहे वन्य प्राणी

9:32 pm or May 9, 2022

पन्ना संवाददाता

पन्ना ९ मई ;अभी तक; जिले के धरमपुर रेंज अंतर्गत आने वाले किशनपुर गांव में तेंदुए की दर्दनाक मौत हो गई। प्रथम दृष्टया तेंदुए की मौत का कारण सड़क दुर्घटना बताया जा रहा है। जानकारी लगते ही मौके पर पहुंचे वन विभाग के अधिकारी कर्मचारी मामले की जांच में जुटे है।

जानकारी के अनुसार पन्ना जिले के धर्मपुर रेंज अंतर्गत आने वाले ग्राम किशनपुर में रविवार की देर रात सड़क हादसे में एक तेंदुए की मौत हो गई। सुबह होते ही जैसे ही ग्रामीणों को जानकारी लगी। तो ग्रामीणों के द्वारा तुरंत वन विभाग को सूचना दी गई। सूचना पाते ही मौके पर वन परीक्षेत्र अधिकारी एवं वन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए और तेंदुए के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम एवं तेंदुए का अंतिम संस्कार किया गया।

वही तेंदुए को टक्कर मारने वाले अज्ञात वाहन का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। जिसकी तलाश में वन विभाग के अधिकारी कर्मचारी जुटे हुए हैं। लेकिन सवाल यह खड़ा हो रहा है कि पन्ना जिले में बाघों के साथ-साथ तेंदुओं की भी अच्छी संख्या है। पीटीआर सहित उत्तर एवं दक्षिण मंडल में 500 से ज्यादा तेंदुए मौजूद हैं। लेकिन सड़क हादसों में इस प्रकार से जंगली जानवरों की मौत होना वन विभाग की कार्यप्रणाली एवं वन्य प्राणियों की सुरक्षा पर बड़े सवाल खड़े कर रहे हैं। क्योंकि बीते 2 वर्ष पहले पन्ना अमानगंज रोड में अमझिरिया के समीप एक बाघ की मौत सड़क हादसे में हो गई थी। एक और बाघ की मौत भी सड़क हादसे से हुई थी। लेकिन 2 वर्ष बीत जाने के बाद भी बाघ की को टक्कर मारने वाले वाहनो का अभी तक सुराग नहीं लगा है।