अनुकंपा नियुक्ति एवं पेंशन प्रकरण लंबित होने पर नहीं होगा विभाग प्रमुख का वेतन – कलेक्टर श्री सिंह

7:37 pm or October 4, 2021
अनुकंपा नियुक्ति एवं पेंशन प्रकरण लंबित होने पर नहीं होगा विभाग प्रमुख का वेतन - कलेक्टर श्री सिंह
महावीर अग्रवाल
मंदसौर 4 अक्टूबर अभी तक ;  कलेक्टर श्री गौतम सिंह की अध्यक्षता में साप्ताहिक अंतर विभागीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान उन्होंने जिला पेंशन अधिकारी एवं कोषालय अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि कोई भी विभाग प्रमुख विभाग प्रमुख की गलती से अगर पेंशन प्रकरण या अनुकंपा नियुक्ति प्रकरण के निराकरण में देरी होती है, तो विभाग प्रमुख का वेतन नहीं किया जाए। इस संबंध में जिले के सभी विभाग प्रमुख को एक पत्र जारी किया जाए। अनुकंपा नियुक्ति के प्रकरण को गंभीरता से लेकर उनका निराकरण करें। इस तरह के प्रकरण अगर किसी विभाग प्रमुख के पास लंबित हैं, तो उसका तुरंत निराकरण करें। निराकरण करने के लिए अक्टूबर माह के 26 दिन शेष हैं। निराकरण न करने पर अक्टूबर माह का वेतन नहीं किया जाएगा। बैठक के दौरान वन मंडला अधिकारी, अपर कलेक्टर सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।
               बायोडीजल के संबंध में जिला आपूर्ति विभाग, फूड विभाग एवं नापतोल विभाग मिलकर प्रभावी कार्यवाही करें तथा प्रभावी कार्यवाही से तुरंत अवगत भी करवाएं। पीआईयू विभाग कार्य करने की प्रगति को तेज रफ्तार प्रदान करें। अगर कोई समस्या है, तो तुरंत बताएं। उसका समाधान किया जाएगा, लेकिन कार्य में देरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जो भी कार्य हैं वह जल्दी पूर्ण करें।
               कलेक्टर ने बैठक में सभी विभागों को निर्देश दिए कि अगर समस्या का सही समय पर समाधान किया जाए तो वह शिकायत टीएल में नहीं आ सकती। इसलिए शिकायतों पर ध्यान दें एवं लोगों को समय सीमा में न्याय प्रदान करें। उससे सभी का समय बेचेगा। जिससे सभी को समय पर हर सुविधा का लाभ मिलेगा। लीड बैंक मैनेजर को निर्देश देते हुए कहा कि दुधाखेड़ी माताजी मंदिर के संबंध में मंदिर अकाउंट से संबंधित बैंक चढ़ावे के रूप में आने वाले सिक्के लेने से मना कर रही है। उस संबंध में आवश्यक कार्यवाही करें तथा बैंक को निर्देशित करें कि कोई भी बैंक सिक्के लेने से मना नहीं कर सकती। सभी अधिकारी इस बात पर विशेष तौर पर ध्यान दें की जिले में किसी काम से भ्रमण पर जाते हैं, तो रास्ते में एक स्कूल का अनिवार्य रूप से भ्रमण करें।  जिससे स्कूल की व्यवस्था भी सुधरेगी एवं पढ़ाई भी। स्कूल में किए गए भ्रमण एवं वहां की व्यवस्था के बारे में भी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि फायर एडिट करके आवश्यक कार्यवाही से तुरंत अवगत करवाएं तथा यह भी बताएं कि कहां-कहां पर फायर एडिट किया जा चुका है।