अपमिश्रित मूगंफली तेल का विक्रय करने वाले आरोपीगण को 06-06 माह का सश्रम कारावास

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर / उज्जैन २५ दिसंबर ;अभी तक;  न्यायालय श्रीमान अतुल यादव, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी जिला उज्जैन के न्यायालय द्वारा आरोपीगण 01. शैलेन्द्र पिता नेमीचन्द्र, उम्र 25 वर्ष निवासी अम्बाप्रसाद तिवारी मार्ग उज्जैन 02. सुनील भाटिया पिता राजकुमार भाटिया, उम्र 25 वर्ष, निवासी- साजन नगर जिला इन्दौर को खाद्य अपमिश्रण निवारण अधिनियम की 1954 की धारा 16(प)(ं)(प) और धारा 16(प)(ं)(पप) में आरोपीगणों को 06-06 माह का सश्रम कारावास एवं कुल 2,000/-रूपये का अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।
                          अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी श्री मुकेश कुमार कुन्हारे ने अभियोजन घटना अनुसार बताया कि दिनांक 12.07.2000 को खाद्य निरीक्षक व्ही.के. भटनागर द्वारा श्री बालाजी ट्रेडस सखीपुरा उज्जैन में करीब दोपहर 02ः00 बजे खाद्य पदार्थो की चैकिंग हेतु जिला उडनदस्ता में शामिल होकर शैलेन्द्र जैन जो कि श्री बालाजी सेल्स ऐजेंसी पर बैठकर खाद्य पदार्थो की विक्रय करते हुये पाये गये, जिससे पूछने पर लाईसेंस का होना बताया गया लेकिन उसके द्वारा पेश नही किया गया। आरोपी द्वारा विक्रय किये जाने वाले खाद्य पदार्थ मूगंफली तेल जिसको कि सुनील टेªडर्स के प्रोपाराइटर सुनील भाटिया से लेना बताया। मौके पर सुनील ट्रेडर्स द्वारा विक्रय किये गये मूगफंली के तेल का जांच नमूना विधिवत लेने के पश्चात् नमूनों को लोक विश्लेषक को जांच हेतु भोपाल भेजा गया जो  जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई जिसके अनुसार आरोपी द्वारा बेचा गया मूगफंली का तेल अपमिश्रित पाया गया। आरोपीगण के विरूद्ध परिवाद माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर आरोपीगण को दण्डित किया गया। प्रकरण में शासन की ओर से श्री महेश चन्द्रावत, एडीपीओ, जिला उज्जैन द्वारा पैरवी की गई।