अमर बलिदानी राजा शंकरशाह रघुनाथ शाह के बलिदान में हुये कार्यक्रम कोरोना के चलते सादगी से

12:25 pm or September 20, 2020
अमर बलिदानी राजा शंकरशाह रघुनाथ शाह के बलिदान में हुये कार्यक्रम कोरोना के चलते सादगी
मंडला से सलिल राय
मंडला २० सितम्बर ;अभी तक मध्यप्रदेश आज के मण्डला और प्राचीन गोंड सम्राज्य की सरज़मी में गढ़ा मण्डला के ऐतिहासिक स्मरण में अपनी मातृ भूमि की आन बान शान के लिए अपने बलिदान की गाथा में मण्डला जिला की अपनी अलग देश प्रेम की गाथा है 18 सितम्बर यानी राजा शंकर शाह कुवँर रघुनाथ शाह का बलिदान दिवस मण्डला में भव्यता के साथ मनाने की परंपरा में इस बार कोविड 19 के चलते इसका असर मण्डला में दिखा मण्डला बीते सालों में यह बलिदान दिवस अपनी एक पहचान बना चुका हैं अंग्रेजों के शासनकाल में राजा शंकर शाह और कुवँर रघुनाथ शाह को तोप के गोले अंग्रेजो ने उन्हें मौत दी थी यह बलिदान की पूरी गाथा आज के वन मंत्री कुवँर विजयशाह ने माटी नाम की फ़िल्म बनवाई हैं जो अमर बलिदानी राजा शंकर शाहऔर कुवँर रघुनाथ शाह की शहादत देश भक्ति और अपनी आन बान शान शानदार जीवंत दर्शन ऐसे अमर बलदानी के बलिदान दिवस पर शुक्रवार को मण्डला में जो कार्यक्रम हुई वे इस तरह हैं।

कलेक्टर की अगुवाई पर जिले के दिव्यांग जनों एवं दिव्यांग छात्र छात्राओं को केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते इस्पात मंत्री द्वारा ट्राई साइकिल व्हीलचेयर बैसाखी श्रवण यंत्र वितरण किया गया आपको बता दें कि जिले में पहली बार राष्ट्रीय न्यास योजना अंतर्गत लीगल गार्जियन शिप योजना के तहत ऐसे दिव्यांगजन या छात्रा जो मतिमंद है अपना काम सहन नहीं कर सकते पैसे का लेन देन आदि नहीं कर सकते जीवन यापन नहीं कर सकते उनके लिए कलेक्टर है इसका सिंह ने विशेष कवायद करते हुए जिले में पहली बार 26 लोगों को लीगल गार्जियन से का प्रमाण पत्र वितरण का शुभारंभ करवाया जिसमें से कार्यक्रम के दौरान दो पात्र छात्राओं को लीगल गार्जियन से प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया पहली रेखा मरावी माता फुल मूवी प्रीता प्रीतम मरावी इसी तरह  बिझिया निवासी  श्रुति तिवारी माता सुधा तिवारी को लीगल गार्जिय शिप के तहत संरक्षक बनाया गया उक्त कार्यक्रम में आपको बता दें कि मंडला कलेक्टर की पहल से पहली बार श्रवण बाधित दिव्यांग जनों को ट्रांसपेरेंट पारदर्शी माँक्स का निर्माण आजीविका मिशन से तैयार करवा कर वितरण किया गया इस मार्क्स को लगा कर के श्रवण बाधित व्यक्ति अपने भाव भंगिमा ओं के साथ आपस में बातचीत सुविधा से कर सकते हैं करोना जैसी महामारी से भी सकते हैं दूसरी बात यह भी है कि कलेक्टर हर्ष का सिंह द्वारा विशेष कवायद के साथ दिव्यांग जनों के लिए जिले के सभी 9 विकास खंडों में जनपद शिक्षा केंद्रों में दिव्यांगजन सहायता केंद्र कंट्रोल रूम की स्थापना कराई गई जिसका शुभारंभ केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते द्वारा दिनांक 18 सितंबर को के कार्यक्रम मैं उपस्थित होकर किया जिसके माध्यम से जिले के सभी दिव्यांगजन अपनी समस्याओं को दीवारों पर अंकित दूरभाष के माध्यम से अंकित करा सकते हैं साथ ही यह भी बता दें कि दिव्यांग जनों की समस्याओं को उनके घर पर जाकर ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों द्वारा तुरंत निराकरण करने की कवायद की जाती है विषम परिस्थिति में जिला स्तरीय समिति के द्वारा भी आवश्यकतानुसार समस्याओं का  निराकरण किया जाता है इस प्रकार से माननीय मंत्री जी के द्वारा यूनिक डिसेबिलिटी पहचान पत्र का भी प्रमाण पत्र दिव्यांग जनों को प्रस्तुत किया गया तत्पश्चात उक्त कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी तन्वी हुड्डा सांसद संपतिया उइके जिला पंचायत अध्यक्ष सरस्वती मरावी जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेश मिश्रा एवं भाजपा संगठन के पूर्व जिला अध्यक्ष रतन सिंह ठाकुर की परिस्थिति में उक्त कार्यक्रम कराया गया जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तन्वी हुड्डा शंकर मरावी  , कृष्ण कुमार उपाध्याय सहायक परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र मण्डला समावेशी शिक्षा एवं विकास खंड अंतर्गत एमआरसी समावेशी शिक्षा एवं समग्र अधिकारी पीयूष पांडे उपस्थित रहे।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *