अर्द्धरात्रि में साहब के बुलावे का हवाला देकर ले गये ट्क ड्ायवर की लाठियो से पीट पीटकर हत्या क दी

मयंक शर्मा

खंडवा १३ नवंबर ;अभी तक; ं ट्रक ड्राइवर श्रीपाल पिता भाईराम भील (35)को मंगलवार अर्द्धरात्रि में  दो बदमाश उसे घर से उठा ले गए। कुछ देर बाद   ड्राइवर को गंभीर रूप से घाायल मिला। ं परिजनो ने अस्पताल में भर्ती कराया  जहां उसने उपचार दौरान बुधवार मडके ं  दम तोड़ दिया। मृतक की पत्नी अर्चना ने पंधाना पुलिस को रपट दर्ज कराई है। पंधाना थाना प्रभारी राधेश्याम मालवीय ने बताया कि मामले की प्रत्येक बिंदु पर जांच कर रहे हैं। श्री मालवीया ने बताया कि मृतक की पत्नी अर्चना व बड़े भाई को वह सिर्फ इतना बता पाया कि उसे चार-पांच लोगों ने मिलकर अर्द्धनग्न कर मापीट की है। बदमाशों ने उसे इतना मारा कि वह सही ढंग से बात भी नहीं कर पा रहा था।

महिला अर्चना ने पुलिस को यूं बताया  कि  मंगलवार को   दीपावली मनाने उसका पति घर आया था। रात्रि में निद्रा मग्न थे तभी  रात करीब डेढ़ बजे किसी ने दरवाजा खटखटाया, मेरी नींद खुल गई। दरवाजा खोलकर देखा तो दो लोग बाईक से आये थे। उन्होंने साहब का हवाला देकर कहा श्रीपाल को साहब बुला रहे हैं। एक्सीडेंट करके आया है। महिला ले कहा पति को बताने पर उसने अनभिज्ञता जताई।

बावजूद वह जाने को तैयार हो गया । बाइक पर बैठकर बदमाश उन्हे साथ ले गये। एक घंटा बाद भी  नहीं लौटे  तो  अपने जेठ को पूरा घटनाक्रम बताया। फिर हम श्रीपाल को ढूंढने निकल गए। घर से करीब आधा किमी दूर ट्रक खड़ा मिला। देखा तो श्रीपाल पति के कराहते पाया।बुरी तरह मारपीट किये जाने से वह बात भी नहीं कर पा रहा था। हाथ-पैर जख्मी थे।  तत्काल डायल 100 को सूचना दी। श्रीपाल को घायल अवस्था में पंधाना उपस्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां सुबह पांच बजे उनकी मौत हो गई।

घटनास्थल पर पहुंचे एसपी विवेक सिंह व  एफएसएल अधिकारी डॉ. विकास मुजाल्दा ने घटनास्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य एकत्र किए हैं।ग्राम सरपंच राजेंद्र सिंह चैहान ने बताया कि मृतक श्रीपाल की गांव में किसी से कोई रंजिश नहीं थी। संभवतः मामला व्यवसाय से जुड़ा हो सकता है।

थाना प्रभारी श्री मालवीया ने कहा कि अज्ञात लोगो के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर बदमाशो की तलाश की जा रही है जिन्होने लाठियो से पीट पीटकर ड्ायवर की हत्या कर दी है।उन्होने कहा कि अब तक सुराग हाथ नहींलगा है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *