अवैध रूप से रासायनिक खाद संग्रहण करने का मामला, दिघोरी के संतोष मड़ामे एवं मोहन सुलाखे के विरूद्ध एफआईआर दर्ज 

10:09 pm or July 30, 2022

आनंद ताम्रकार

बालाघाट ३० जुलाई ;अभी तक;

                    लांजी तहसील के ग्राम दिघोरी के निवासी संतोष मड़ामे एवं मोहन सुलाखे द्वारा अवैध रूप से रासायनिक खाद का भंडारण एवं विक्रय करने पर कलेक्टर डॉ गिरीश कुमार मिश्रा के निर्देश पर इन दोनों व्यक्तियों के विरूद्ध लांजी थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।
                     उप संचालक कृषि श्री राजेश खोब्रागड़े ने बताया कि 29 जुलाई 2022 को श्री खुदीराम सनोडिया, अनुविभागीय कृषि अधिकारी लांजी, श्री विरेन्द्र काकोडिया, कृषि विकास अधिकारी (उर्वरक निरीक्षक), श्री संजय उके प्रभारी वरिष्ठी कृषि विकास अधिकारी एवं श्री अमित नारनौरे ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम-दिघोरी, तहसील-लांजी, जिला-बालाघाट का औचक निरीक्षण किया गया। जिसमें श्री संतोष मडामे पिता श्री प्रेमलाल मडामे के मकान में एन.पी.के. 12:32:16 आर्गेनिक फर्टिलाईजर जी.पी. एग्रो लाईफ राजकोट गुजरात की 47 बोरी मात्रा 23.50 क्विंटल का अवैध भण्डारण करना पाया गया तथा पूछताछ करने पर श्री संतोष मडामे द्वारा बताया गया कि उक्त उर्वरक ग्राम के श्री मोहन सुलाखे पिता श्री मंगलदास सुलाखे द्वारा विक्रय करने रखा गया है। इस पर मोहन सुलाखे से उर्वरक के क्रय-विक्रय एवं भण्डारण से संबंधित दस्तावेज मांगे गये तो दस्तावेज नहीं होना बताया गया एवं उक्त रासायनिक खाद का लेखा जोखा भी उपलब्धं नहीं कराया गया।
               अत: श्री संतोष मडामे पिता श्री प्रेमलाल मडामे एवं श्री मोहन सुलाखे पिता श्री मंगलदास सुलाखे के पास उक्त रासायनिक खाद का पंजीयन प्रमाण पत्र के बिना उर्वरक का व्यापार किया जाना पाया गया है, जिस पर उर्वरक निरीक्षक श्री विरेन्द्र  काकोडिया, कृषि विकास अधिकारी द्वारा प्रस्तुवत प्रतिवेदन पर आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा-3 एवं 7, उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985 की धारा-7 तथा भारतीय दण्ड संहिता 1860 (धारा-420) के तहत थाना-लांजी में श्री संतोष मडामे पिता श्री प्रेमलाल मडामे एवं श्री मोहन सुलाखे पिता श्री मंगलदास सुलाखे, ग्राम-दिघोरी, तहसील-लांजी, जिला-बालाघाट के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज की गई है। साथ ही अवैध भण्डारण में प्राप्त एन.पी.के. 12:32:16 आर्गेनिक फर्टिलाईजर की 47 बोरी मात्रा को समिति प्रबंधक, सेवा सहकारी समिति, पालडोंगरी (लांजी) को सुपूर्द कर सुरक्षित रखे जाने हेतु निर्देशित किया गया है।
                  इस कार्यवाही में उप संचालक कृषि द्वारा किसानों को जानकारी दी गई कि किसान भाई दुकानों से मानक खाद ही खरीदे जिसके पक्का बिल अवश्य लेवे और अधिक दर में यदि कोई विक्रता खाद बेचता है तो कृषि विभाग में शिकायत कर सकते है। निजी खाद विक्रेताओं से भी अनूरोध है कि मानक खाद, अनुमति प्राप्त खाद का ही वितरण, निर्धारित दर पर ही किसानों को बिक्री करे। गड़बडी की शिकायत मिलने या देखे जाने पर आगे भी विभाग द्वारा कठोर कार्यवाही की जावेगी।