अवैध रूप से 18 घरेलू गैस सिलेण्डर रखने वाले  आरोपीगण को 01 साल की सजा

7:46 pm or October 17, 2022
महावीर अग्रवाल 

मंदसौर- १७ ०क्टोबेर ;अभी तक;   माननीय न्यायालय श्रीमान राहुल सोलंकी न्यायिक मजिस्टेट प्रथम श्रेणी द्वारा आरोपी दीपक पिता प्रहलाद निवासी पिपलियामण्डी व कन्हैयालाल पिता बर्दीचंद्र निवासी कुचडौद जिला नीमच को दोषसिद्ध पाते हुए 01 वर्ष का सश्रम कारावास व 1,000/- रू जुर्माने की सजा सुनाई।
अभियोजन सहायक मीडिया प्रभारी बलराम सोलंकी ने बताया कि दिनांक 08.11.2013 को थाना वायडी नगर के उपनिरीक्षक वी.एस. कटारा, हमराह प्रआर सोहन सिंह व कैलाश राठौर को साथ लेकर थाने से वाहन चैकिंग हेतु जमालपुरा चैंकिंग पॉइन्ट पर पहुंचे जहां चैकिंग के दौरान ग्राम अरनोद की तरफ से एक सफेद रंग की मारूती वेन एमपी 43 सी 4091 आती हुई दिखी जिसे चैक करते वेन के अंदर 18 घरेलू गैस सिलेण्डर पाये गये। वेन में दो व्यक्ति बैठे पाये गये मौके पर वेन चालक का नाम पूछते दीपक कैथवास व एक अन्य व्यक्ति का नाम कन्हैयालाल मेघवाल बताया । वेन चैक करते वेन में 18 गैस सिलेण्डर रखे पाये गये। आरोपीगण से  18 गैस सिलेण्डर अपने पास रखने व परिवहन के संबंध में  दस्तावेज का पूछते नहीं होना बताया । इस प्रकार दोनो आरोपीगण द्वारा अत्यंत ज्वलनशील पदार्थ लापरवाही पूर्वक बिना अनिज्ञप्ति के अपने कब्जे में रख परिवहन करते पाये जाने से आरोपीगण से उक्त वेन मये 18 गैस सिलेण्डर जप्त किये जाकर आरोपीगण को गिरफ्तार किया, मौके की संपूर्ण कार्यवही कर थाने पर आरोपीगण के विरूद्ध धारा 285  भादवि एवं 3/7 आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लियो गया, विवेचना उपरान्त वायडी नगर पुलिस ने अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया।
माननीय न्यायालय के समक्ष अभियोजन द्वारा महत्वपर्ण साक्ष्य प्रस्तुत की गई  जिससे सहमत हो कर आरोपीगण दीपक व कन्हैयालाल को दंडित किया।
प्रकरण में अभियोजन का सफल संचालन श्री बलराम सोलंकी सहायक जिला अभियोजन अधिकारी द्वारा किया गया ।