अवैध संबंधों के चलते अपनी पत्नी के प्रेमी की हत्या करने वाले आरोपी को आजीवन कारावास

मयंक शर्मा
खंडवा ११ जनवरी ;अभी तक;   अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंध रखने वाले गणेश की हत्या करने
वाले आरोपी अन्ना पिता सुखराम , उम्र 40 वर्ष , निवासी ग्राम कोटाघाट ,
थाना जावर जिला खण्डवा को प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश खण्डवा श्री
संजीव सुधाकर कलगांवकर की न्यायालय द्वारा दोषी पाते हुये भारतीय दण्ड
संहिता की धारा 302 में आजीवन कारावास एवं 100 / – रूपये अर्थदण्ड व धारा
201 भादवि में 03 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 100 / – रूपये के अर्थदण्ड
से दण्डित किया गया है । अभियोजन की ओर से प्रकरण का संचालन जिला लोक
अभियोजन अधिकारी श्री चंद्रशेखर हुक्मलवार द्वारा किया गया ।
            अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी श्री मोहम्मद जाहिद खान एडीपीओ द्वारा बताया गया कि ,
आरक्षी केन्द्र जावर में दिनांक 22.05.2020 को सूचनाकर्ता बल्लू के
द्वारा यह सूचना दी गयी कि वह सुबह करीब 7 बजे खेत पर गया और झाड़ियों की
मेढ पर साफ – सफाई कर रहा था . इस दौरान खेत किनारे नाला है जहां से उसे
दुर्गन्ध आयी तब उसने नाले में नीचे जाकर देखा एक अज्ञात व्यक्ति की लाश
रेत में आधी अधुरी ढकी हुई पढ़ी थी तथा उपर से आधे शरीर पर रेत ढकी थी वह
उसके उपर कांटे रखे थे , एक हाथ दिखाई दे रहा था जिस पर कोहनी के पास
गहरी चोट आई हुई चमडी निकली हुई , हाथ टूटा हुआ दिख रहा था । उसे शंका थी
कि कोई अज्ञात व्यक्ति की हत्या कर उसको मारकर नाले में दबाकर उसके उपर
रेत और कांटे डालकर ढांक दिया है । उक्त सूचना पर आरक्षी केन्द्र जावर
में मर्ग क्रमांक 16/20 धारा 174 जा.फौ. पंजीबद्ध कर जांच प्रारंभ की गई
तथा घटनास्थल बल्लू के खेत के पास नाला ग्राम कोटाघाट में जाकर सर्वप्रथम
अज्ञात मृतक की शिनाख्ती कीगई जिसमें मृत के पिता अनोखी ने पुत्र गणेश
उम्र 40 वर्ष निवासी भामगढ़ का होना पहचाना गया । शव का निरीक्षण करने पर
गर्दन की बायी और बाये कान के उपर तथा बाये हाथ की कोहनी पर गहरी चोट पाई
गई जो कि अज्ञात द्वारा हत्या कर पहचान चुपाने की नियत से शव को रेत में
गाढ दिया । शरीर पर आई चोट से व घटनास्थल के निरीक्षण में प्रथम
दृष्टांया अपराध धारा 302 , 201 भादवि पाये जाने से अपराध दर्ज कर
अनुसंधान प्रारंभ किया गया । संदिग्ध अन्ना पिता सुखराम से पुछताछ करने
पर उसने बताया कि दिनांक 19.05.2020 को मृतक गणेश मेरे घर पर आया । गणेश
का मेरी पत्नी से अवैध संबंध था । मेरे बार बार समझाने पर वह मुझसे झगड़ा
करता था इस कारण दिनांक 19.05.2020 को करीब 08:00 बजे लगभग बल्लू के खेत
पर गणेश को कुल्हाडी तथा लठ् से मारकर उसकी हत्या कर लाश को नाले में
छुपा दी थी । जिस कुल्हाडी व लठ् से हत्या की थी , वह कुल्हाडी मैने अपने
खेत में कुएं के पास छुपा दी है तथा मेरे कपडे भी वही पर छुपा दिये तथा
मृतक गणेश के जुते लाश के लगभग 100 फीट दूर नाले के कचरे में छुपा दिये
है । अनुसंधान अधिकारी द्वारा आरोपी द्वारा बताये स्थान से कुल्हाड़ी ,
कपड़े व मृतक के जुते जप्त किये । पुलिस द्वारा अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग
पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया । उल्लेखनीय है कि उक्त प्रकरण को
जघन्य एवं सनसनी खेज से चिहिन्त किया गया था ।