आकाशीय बिजली गिरने से तीन की मौत, कई पेड धरायााही

7:04 pm or June 12, 2022
मयंक शर्मा
खंडवा १२ जून ;अभी तक;  जिले में प्री.मानसून की दस्तक शनिवार को धूमधाम भरी रही। जोरदार बारिश ने मौसम का  रुख बदल दिया है। शनिवार शाम में आंधी तूफान के साथ मानसून दस्तक दी अैा रूक रूक कर बीती रात बारिश होती रही। कहीं कही  ओले भी गिरे है।खंडवा जिले में आकाशीय बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत हो गई। मृतक तीनों किसान अलग.अलग गांव के है।
                      सीएसपी पीसी यादव ने बताय कि  रात 9 बजे तीनो के  शवों को जिला अस्पताल लाया गया। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची थीं रविवार को इनका पी एम किया गया। उन्होने कहा कि मृतको में  आरूद के स्वयं खेत मालिक
केवलराम पटेल के साथ खेत पर अरबी की फसल निकालने आए प्रद्युमन निवासी ग्राम बांदरला व अखिलेश नाम का युवक ग्राम हीरापुर का निवासी है।   उन्होने बताया कि मामला ग्राम आरुद का है जहां ं खेत पर अरबी की फसल निकाल रहे किसान मजदूर आकाशीयं बिजली की चपेट में  आ गये और उनकी मैात हो गयी।  किसानों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।घटना शनिवार संध्या पांच बजे की है।
                   शनिवार को प्री.मानसून की पहली तेज वर्षा के साथ  पंधाना व छैगांवमाखन ब्लाक के कुछ गांवों में चने के बराबर ओले भी गिरे हैं। ग्राम कुमठी में तेज हवा से एक पेड़ गिर गया तो कई घरों के खप्पर व टिन भी उड़ गए।  ग्राम कुमठा के पास लखोरी नदी लबालब होकर पानी बहने लगा।  ग्राम आरुद में  शाम पांच बजे मौसम ने एकाएक अपना रुख बदल लिया। दिन भर तेज धूप ने लोगों को बेहाल किया। शाम होते ही लगभग 40 मिनट तेज हवा के साथ वर्षा हुई। जिससे गर्मी से राहत मिली।
                      प्री.मानसून की इस बारिश से पहले तेज हवाए आंधी चलने से जिले में करीब दो दर्जन से अधिक पेड़ गिरे। करीब 10 से ज्यादा गांवों में किसानों की फसलों को भी नुकसान हुआ है। इस दौरान खंडवा में बिजली भी गुल हो गई। कई इलाकों
में तो करीब 3 से 4 घंटे बाद ही बिजली लौटी। पेड़ गिरने से हाईटेंशन लाइन के साथ ही छोटी लाइनें भी प्रभावित हुई। कई बिजली के खंभे भी झुक गए।खडवा के रामकृष्ण गंज वार्ड स्थित नेमीनाथ जैन मंदिर आनंद वाटिका के पास 100 से भी अधिक वर्ष पुराना नीम का हरा भरा पेड़ हवा.आंधी के चलते गिर पड़ा। गनीमत यह रही कि इस दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। वार्डे पार्षद सुनील
जैन ने पेड़ के गिरने की सूचना विद्युत मंडल के साथ ही नगर निगम को दी।
                उन्होने बताया कि पेड़ का एक भाग शाम 4 बजे बिना आंधी तूफान के गिर गया वहीं  दूसरा भाग शाम 6 बजे आंधी तूफान के कारण गिर गया। पेड़ गिरने से हाईटेंशन लाइन के साथ ही छोटी लाइनें भी प्रभावित हुई। । शनिवार को अधिकतम तापमान 41 डिग्री रहा। जबकि शाम को मौसम में ठंडक घुल गई और बारिश होने लगी। मौसम विभाग के अनुसार अभी कुछ दिन प्री.मानसून की बारिश रुक.रुककर होती रहेगीए क्योंकि मानसून आने में अभी देर है।  मानसून की आमद 15 जून के बाद ही होने की जाकारी मोसम पय्रवेक्षक दे रहे हे।
                  शनिवार शाम को हुई वर्षा का ओर मध्य रात्रि बाद तक रूकरूकक चला।इसने सड़कों को तरबतर कर दिया। स्थानीय मौसम विभाग के अनुसारबरिश के  पहले करीब 30 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं भी चलीं।  आकाशीय बिजली
गिरनेसे तीन लोगोकी मौतरू कई पेड धरायााही कच्चे मकानों के टप्पर उडेरूतूफान के बाद बारिश से मौसम में ठंडक ध्ुाली