आग लगने से 8 पशु जिंदा जले, 1 गाय 5 भैंस की हुई मौत दो गंभीर

6:55 pm or October 1, 2022
महावीर अग्रवाल

मन्दसौर एक अक्टूबर ;अभी तक;  ग्राम आकोदड़ा में भंवर बाई पिता नंदलाल पाटीदार ने अपने बाड़े में एक लकड़ी और लोहे चद्दर का छपरा बना रखा था जहां पर उस छपरा में 7 भैंस, एक गाय को बांधा करते थे और उन पशुओं का पालन पोषण करते थे और उन गाय भैंस के दूध से अपना घर परिवार गुजारा चला रहे थे जहां पर भंवरभाई व परिजन हमेशा की तरह छपरा के अंदर अपने गाय भैंस को बांधकर घर चले गए और जहां रात्रि में आकस्मिक रूप से आग लग गई जब आग की लंबी लंबी लपटें और धुआं दिखा तो रात्रि में आसपास के लोगों को पता चलने पर उठे और दिखा तो बुरी तरह से आग लगी हुई थी वहीं परिजनों ने ग्राम पंचायत सरपंच करूलाल पाटीदार को सूचना की।
                                     सरपंच ने अपनी जागरूकता का परिचय देते हुए अपने नजदीकी क्षेत्र थाना   भावगढ़ सूचना की और मंदसौर नगर पालिका को भी सूचना देते। ग्रामीणों के द्वारा उस आग पर काबू पाने का काफी प्रयास किया लेकिन आग पर काबू पाना मुश्किल हो गया था उसके पश्चात मंदसौर से 5 फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची और आग पर काबू किया गया लेकिन आग बुझने के बाद देखा तो उस आग की चपेट में 8 पशुओं बुरी तरह से जल चुके थे जिसमें 1 गाय 5 भैंस की मौके पर ही जलकर मौत हो गई 2 भैस गंभीर रूप से जलकर घायल हो चुकी और उस छपरे में कई कृषि कार्य करने की सामग्री और कृषि खेत की सिंचाई करने के कई प्रकार की प्लास्टिक पाइप व ड्रिप सेठ, मोटरसाइकिल जुगाड़ ऐसी कई प्रकार की  कहीं प्रकार की महंगी-महंगी सामग्री पड़ी थी जो उस आग में सारी जलकर नष्ट हो चुकी है।
                          साथ ही मौके पर पुलिस प्रशासन ग्राम हल्का पटवारी पशु चिकित्सालय डॉक्टर ग्राम पंचायत सरपंच सचिव और कई ग्रामीण जन मौके पर आए कर्मचारी अधिकारियों ने पंचनामा बनाकर अपनी कार्रवाई पूरी की और सरकार के निर्देश के अनुसार सभी पशु को ग्राम पंचायत के सहयोग से जे सी बी से खड्डा खुदवाकर विधि विधान से दफनाया गया और सभी पशु को जे सी बी की द्वारा उठाकर ट्राली में डालकर लेजाया गया।
                         पत्रकार श्याम सोनावत ने मौके पर पहुंचकर वरिष्ठ अधिकारी से चर्चा करते हुए पूरी जानकारी ली जहां परिजन ने बताया की हम हमारे पशु को हमारे परिवार के सदस्य के तरह पालन पोषण करते थे और उसका दूध बेचकर हम घर परिवार का गुजारा चला रहे थे हमारा बहुत ही बड़ा नुकसान हो गया सारा का सारा जलकर नष्ट हो गया साथ ही परिजन व ग्राम सरपंच कारुलाल पाटीदार पटवारी जवाहरलाल मीणा  से सोनावत ने चर्चा करी तो बताया गया कि भंवर भाई पिता नंदलाल पाटीदार के यहां आग लगने से करीब 7 से  8 लाख का नुकसान हो गया है  परिजन और पंचायत की ओर से मांग है कि इनको अधिक से अधिक सहायता राशि के रूप में मुआवजा दिया जाए।
इस अवसर पर उपस्थित पटवारी जवाहरलाल मीणा, सरपंच कारूलाल पाटीदार, उपसरपंच शिवलाल सोनावत, सचिव सूरजमल राठौर, मनोहर पाटीदार, शंकरलाल पाटीदार, सज्जनलाल सोनावत सुरेश पाटीदार कचरुलाल पाटीदार साथ ही कई ग्रामीणजन उपस्थित रहे यह जानकारी श्याम सोनावत ने दी।