आचार्य श्री विजयराजजी म.सा. के 63वें जनमदिवस पर 5 दिवसीय कार्यक्रम प्रारंभ, 20 को सामूहिक एकासने होंगे

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर। १६ अक्टूबर ;अभी तक; जिन शासन गौरव, आचार्य प्रवर श्री विजयराजजी म.सा. का 63वां जन्मोत्सव दिनांक 20 अक्टूबर को है। आचार्य श्री के जन्मोत्सव पर श्री साधुमार्गी शांत क्रांति जैन श्रावक संघ, महिला मण्डल, युवा मण्डल एवं बहू मण्डल द्वारा 5 दिवसीय कार्यक्रम तय किये गये है। कोरोना महामारी के सभी कार्यक्रम सादगीपूर्ण रूप से होंगे तथा कार्यक्रमों के आयोजन में कोविड 19 के संबंध में शासन ने जो भी गाईड लाईन तय की है उसका पालन किया जायेगा। 17 अक्टूबर, शनिवार को प्रातः 9.30 बजे उवसग्गहरं के जाप होंगे। प्रातः 10 बजे अपना घर (निराश्रित बालगृह) में आश्रय प्राप्त बच्चों को भोजन कराया जायेगा। दोप. 2 बजे बच्चों की फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिता होगी। यह प्रतियोगिता 2 आयु वर्ग में होगी। सायं 4 बजे नाका नं. 10 स्थित गौशाला में गायों को लाप्सी व गुड़ चारे का आहार कराया जायेगा।
                  दिनांक 18 अक्टूबर, रविवार को प्रातः 9.30 बजे सजोड़े नमोत्थुणम के जाप होंगे। प्रातः 11 बजे गोपालकृष्ण गौशाला (बस स्टेण्ड के पास) गायों को चारे का आहार कराया जायेगा। दोप. 2 बजे 24 तीर्थंकरों पर प्रश्नोत्तर प्रतियोगिता होगी। 19 अक्टूबर, सोमवार को प्रातः 9.30 बजे लोगस्स के जाप होंगे। प्रातः 11 बजे वृद्धाश्रम में फल वितरण किया जायेगा। दोप. 2 बजे आचार्य श्री के जीवन पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन होगा।
                  20 अक्टूबर, मंगलवार को प्रातः 9 बजे दशरथ नगर स्थित नवकार भवन में गुणानुवाद सभा का आयोजन होगा। उसके उपरांत तपस्वियों का बहुमान का कार्यक्रम होगा। उसके बाद दशरथ  नगर मांगलिक भवन में सामूहिक एकासने का आयोजन किया जायेगा। सायं 4 बजे अपना घर निराश्रित बालगृह में आश्रय प्राप्त बच्चों को भोजन कराया जायेगा। सभी कार्यक्रमों में कोविड 19 की नियमावली का पालन किया जायेगा। सभी धर्मालुजन सूचित होवे। उक्त आशय की जानकारी प्रचार सचिव कांतिलाल रातड़िया ने दी।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *