आजादी के 75 वर्ष में भगत सिंह का जन्म दिवस भारत रत्न की मांग के साथ 28 सितंबर को मनाया जाएगा

महावीर अग्रवाल 

मन्दसौर,27 सितम्बर ,अभीतक । दशपुर जागृति संगठन द्वारा 28 सितंबर को देश की आजादी के महानायक मातृभूमि के लिए समर्पित, राष्ट्र को जागृत करने के लिए फांसी पर चढ़ने वाले, मात्र 23 वर्ष में अपने आप को इसलिए फांसी पर चढ़ गए कि मेरे फांसी के बाद ही इस देश का युवा जागेगा ऐसे महान विचारों के धनी भगत सिंह का जन्मदिन गांधी चौराहे पर आज 28 सितम्बर को संध्या 7.30 बजे 3 मसाल का प्रज्वलन कर मनाया जायेगा। मशाल का प्रज्जवलन प्रशासनिक अधिकारी  कलेक्टर श्री गौतमसिंह, पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पाण्डे, सीईओ जिला पंचायत श्री कुमार  सत्यम के द्वारा करने के साथ भारत रत्न की मांग की संकल्प पत्र भी भरवाए जाएंगा। इस दौरान 115 दीपक भगत सिंह के जन्म दिवस पर प्रज्वलित होंगे।
कार्यक्रम प्रभारी हरिशंकर शर्मा ने बताया कि देश की आजादी के महानायक भगत सिंह को  राष्ट्र सर्वाेच्च सम्मान नहीं दे पाया यही कारण रहा देशभक्ति के लिये आज कोई भी व्यक्ति आगे नहीं आता। भ्रष्टाचार और आतंकवाद का बोलबाला चारों तरफ है देश के अंदर धन को महत्व दिया जा रहा है राष्ट्रीयता को बिल्कुल भी नहीं। इस संकल्प को लेकर दशपुर जागृति य संगठन ने मांग की है देश के अंदर ऐसे लोगों को भारत रत्न में दे दिया जिनका आजादी से कोई संबंध नहीं था और फांसी पर झूलने वालों के लिए आज भी हमारे देश के राजनेता मौन होकर सदन में खड़े हो जाते हैं। यदि उनके अंदर जज्बा है तो इसी वर्ष भारत रत्न की मांग संगठन के साथ हम मिलकर संकल्प पत्र भरा कर पूरा करेंगे। 101 संकल्प पत्र का लक्ष्य रखा गया है इन संकल्प पत्रों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को भेजा जाएगा। इस देशभक्ति के कार्यक्रम में संगठन सभी को आमंत्रित करता है बढ़ चढ़कर हिस्सा लें संध्या गांधी चौराहे पर 7.30 बजे देश के मालिक भगत सिंह को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए भव्य आतिशबाजी के साथ मिठाई वितरण भी किया जाएगा।
संगठन के सभी पदाधिकारी देश की क्रांतिकारी ड्रेस तिरंगे वाली में मौजूद रहेंगे। यह कार्यक्रम ऐतिहासिक पल का साक्षी बनेगा इसके लिए संगठन आम जनता से प्रार्थना करता है एक पत्र और दो लाइन भगत सिंह के यह लिखने के लिए जरूर आये। दशपुर जागृति संगठन के प्रयासों के कारण आज नगर की एक अद्भुत पहचान है नगर पालिका द्वारा सतत संगठन को प्रदान किया जा रहा है आज मंदसौर नगरी का नाम क्रांतिकारियों की नगरी के नाम से पहचान बनाने में  दशपुर जागृति संगठन द्वारा प्रयासों को रंग मिल रहा है।
कार्यक्रम के लिए संरक्षक डॉ रविंद्र पांडे, राजाराम तंवर, अजीजुल्ला खान खालिद, इंजि. बी.एस. सिसोदिया, सुरेंद्र खेजड़िया, आशीष बंसल, सत्येंद्रसिंह सोम, बालाराम, हरिनारायण टेलर, हरीश कुमावत, प्रेमलता मिंडा, सीमा चोरडिया, हरीश कुमावत, उषा कुमावत, संदीप मंडोवरा, मदनलाल राठौड़, अरुण, महावीर जैन, अनिल प्रजापति, श्री पांडे, एमपी सिंह परिहार, मनीष भाटी, विकास बसेर, वर्षा बसेर, मनोज मंडोवरा, मनोज भटनागर संगठन ने सभी को आह्वान किया है किस कार्यक्रम की महत्ता को देखते हुए समय पर पधारें। यह जानकारी सत्येंद्र सिंह सोम ने दी।