आध्यात्मिक चेतना अभियान द्वारा 25 पुजारियों का सम्मान सम्पन्न

3:06 pm or July 25, 2022
 महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर २५ जुलाई ;अभी तक;  आध्यात्मिक चेतना अभियान द्वारा पुजारी सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।
                इस अवसर पर आशीर्वचन देते हुए पूज्य संत श्री चैतन्यगिरीजी महाराज ने कहा कि संस्कृति के संरक्षण में पुजारियों की सेवा सम्मान योग्य है। जो पुजारी योग्यता अर्जित कर श्रद्धा भक्ति से पूजा अर्चना करते है वे स्व कल्याण के साथ लोक कल्याण भी करते है। आपने गौ सेवा जैसे सेवा कार्यों को उपादेय बताया। धर्मदर्शन के विद्वान पण्डित श्री दशरथभाई ने कहा कि मानव जीवन दुर्लभ है, इसका सदुपयोग प्रभु भक्ति, सेवा व परमार्थ में करना चाहिये। आपने कहा कि सत्संग से ही विवेक जागृत होता है।
वरिष्ठ अभिभाषक श्री प्रकाश रातड़िया ने कहा कि निस्वार्थ सेवाभावी व्यक्तियों का सम्मान करना समाज का दायित्व है। पुजारी अपना जीवन प्रभु भक्ति पूजा अर्चना एवं सांस्कृतिक मूल्यों के प्रति समर्पित करते है। कृष्णकुमार जोशी, विष्णु ज्ञानी एवं पं. प्रकाश दीक्षित ने अपने विचार रखे।
                 आध्यात्मिक चेतना अभियान के संयोजक विनोद शर्मा ने स्वागत भाषण दिया। नगर के विभिन्न मंदिरों के पुजारी सर्वश्री कृष्णगोपाल शर्मा, कन्हैयालाल पण्ड्या, गोविन्ददास बैरागी, मोहनलाल द्विवेदी, कांतिलाल जोशी, किशोर व्यास, संतोष त्रिपाठी, प्रवीण पुरोहित, दुर्गाशंकर ज्ञानी, घनश्याम उपाध्याय, वेदप्रकाश पाण्डे, गौतम उपाध्याय, कोमलदास बैरागी, राकेश भट्ट, आशुतोष उपाध्याय, भरत दुबे, शैलेन्द्रगिरी गोस्वामी, सुमित पाण्डे, शंकरलाल त्रिवेदी का पुष्पमाला, श्रीफल, अंग वस्त्र एवं सम्मान पत्र भेंटकर बहुमान किया। श्री शनि मंदिर सतिति के श्री दरियावसिंह लोढ़ा, अरूण शर्मा, पं. दुर्गाशंकर व अन्य महानुभाव ने अतिथियों का सम्मान किया। आध्यात्मिक चेतना अभियान के भेरूलाल पटेल, रमेश ब्रिजवानी, यशवंत प्रजापति, मोहनसिंह चौहान, मदनलाल शर्मा, प्रकाश कल्याणी, प्रकाश चंदवानी, विरेन्द्र भदानिया, ओमप्रकाश मावर ने अतिथियों का स्वागत किया एवं पूजारियों का सम्मान किया। संस्कृत पाठशाला के विद्यार्थियों ने मंगलाचरण प्रस्तुत किया। आध्यात्मिक संवाद के संयोजक रमेश ब्रिजवानी ने गुरूवंदना प्रस्तुत की। संचालन साहित्य संस्थान के अध्यक्ष कृष्णकुमार जोशी ने एवं आभार प्रदर्शन बीमा अभिकर्ता संघ के अध्यक्ष योगेन्द्र जोशी ने किया।