आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ अभियान को जन-जन तक पहुंचाने में मीडिया की महती भूमिका- कलेक्टर

4:00 pm or March 3, 2021
आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ अभियान को जन-जन तक पहुंचाने में मीडिया की महती भूमिका- कलेक्टर

दीपक कांकर

रायसेन, 03 मार्च  ;अभी तक;  आयुष्मान भारत निरामयम योजना, गरीब और जरूरतमंद परिवारों को समय पर बेहतर उपचार उपलब्ध कराने के लिए सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। योजना के तहत पात्र व्यक्ति एक वर्ष में पॉच लाख रूपए तक का निःशुल्क उपचार करा सकते हैं। जिले में प्रत्येक पात्र परिवार का आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए एक मार्च से 31 मार्च तक ‘‘आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ माह मनाया जा रहा है। इसे जन-जन तक पहुंचाने और लोगों को आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु जागरूक करने में मीडिया प्रतिनिधियों की सहभागिता जरूरी है। यह बात कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने ‘‘आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ के संबंध में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित मीडिया कार्यशाला में कही।

कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि किसी भी कार्यक्रम, अभियान की सफलता के लिए जनजागरूकता बेहद जरूरी है और इसमें मीडिया प्रतिनिधियों की महत्वपूर्ण भूमिका है। लोगों को आयुष्मान कार्ड और उससे मिलने वाले लाभ की जानकारी होगी, तो वह स्वयं भी कार्ड बनवाने के लिए आगे आएंगे। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत निरामयम योजना के तहत पात्र परिवार प्रत्येक वर्ष पॉच लाख रूपए तक का निःशुल्क उपचार शासकीय और अशासकीय चिकित्सालयों में करा सकते हैं। गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले बीपीएल कार्डधारी, संबल कार्डधारी तथा खाद्यान्न पर्चीधारी व्यक्ति, जिनका नाम सामाजिक एवं आर्थिक सर्वेक्षण 2011 की सूची में शामिल है, वह आयुष्मान भारत निरामयम योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं।
कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले का कोई भी पात्र व्यक्ति आयुष्मान कार्ड बनने से वंचित न रहे, इसके लिए ‘‘आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ अभियान की जिला स्तर से ग्राम स्तर तक मॉनीटरिंग की जा रही है। जिला स्तर पर जिला पंचायत सीईओ, सीएमएचओ तथा संबंधित अधिकारियों द्वारा मॉनीटरिंग की जा रही है। इसके साथ ही खण्ड स्तर पर एसडीएम, जनपद सीईओ तथा खण्ड चिकित्सा अधिकारी और ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत सचिव द्वारा मॉनीटरिंग की जा रही है। मीडिया कार्यशाला में जिला पंचायत सीईओ श्री पीसी शर्मा तथा मीडिया प्रतिनिधियों द्वारा पात्र लोगों के सुगमता से आयुष्मान कार्ड बनाए जाने के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए।

31 मार्च तक निःशुल्क बनाए जाएंगे आयुष्मान कार्ड

मीडिया कार्यशाला में कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि एक मार्च से 31 मार्च तक मनाए जा रहे ‘‘आपके द्वार-आयुष्मान‘‘ माह के दौरान पात्र लोगों के निःशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं। लोक सेवा केन्द्रों तथा कॉमन सर्विस सेंटर में आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए 30 रूपए शुल्क निर्धारित हैं। लेकिन पात्र परिवार 31 मार्च तक बिना कोई शुल्क दिए अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं।

जिले में अब तक तीन लाख 57 हजार से अधिक आयुष्मान कार्ड बनें

सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री तथा जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्रीमती शिखा सारावगी ने बताया कि कि जिले में आठ लाख 96 हजार 808 व्यक्तियों के आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसमें से अब तक तीन लाख 57 हजार 305 आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिले में विगत दो माह में लगभग एक लाख 30 हजार से अधिक पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। ‘‘आपके द्वार-आयुष्मान‘‘  अभियान के दौरान जिले के प्रत्येक गॉव में, जिन पात्र लोगों के कार्ड नहीं बने हैं उनके कार्ड बनाए जाएंगे।

ग्राम पंचायतों में भी बनाए जा रहे आयुष्मान कार्ड

मीडिया कार्यशाला में जानकारी दी गई कि लोगों को आयुष्मान कार्ड बनवाने अधिक दूर नहीं जाना पड़े, इसके लिए ग्राम पंचायतों में भी आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं। जिले की सभी ग्राम पंचायतों में ऐसे सभी पात्र लोगों की सूची तैयार की जा रही है, जिनके अभी तक आयुष्मान कार्ड नहीं बने हैं। इन सभी शेष लोगों के आयुष्मान कार्ड ग्राम पंचायतों में ही बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने वाली तीन ग्राम पंचायतों को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *