आबकारी अधिनियम में न्‍यायालय उठने तक की सजा एवं 2500/- रूपये के अर्थदण्‍ड

सीहोर १९ अक्टूबर ;अभी तक;  न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी श्री मनोज कुमार भाटी, आष्‍टा, सीहोर द्वारा अभियुक्‍त राजाराम पिता इलाव सिंह बारेला, निवासी-इन्‍द्रा कॉलोनी, सिद्दीकगंज को धारा 34 (1) म.प्र. आबकारी अधिनियम में न्‍यायालय उठने तक की सजा एवं 2500/- रूपये के अर्थदण्‍ड से दण्डित किया।

सहायक जिला अभियोजन अधिकारी, श्री महेन्‍द्र सितोले द्वारा बताया गया कि थाना सिद्दीकगंज के सउनि कुंवर बहादुर को कस्‍बा भ्रमण के दौरान मुखबिर से सूचना मिली की एक व्‍यक्ति इन्‍द्रा नगर में टापरी के पीछे हाथ बट्टी कच्‍ची शराब बेच रहा है। सूचना की तस्‍दीक पर इन्‍द्रा नगर पहुंचने पर उक्‍त व्‍यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगा, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा तथा नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम राजाराम पिता इलाव सिंह बारेला, निवासी-इन्‍द्रा कॉलोनी, सिद्दीकगंज बताया। तलाशी लेने पर उसके पास एक प्‍लॉस्टिक की कुप्‍पी में 10 लीटर देशी हाथ बट्टी की शराब मिली। शराब रखने के संबंध में वैध कागजात मांगने पर नहीं होना बताया। मौके पर ही आरोपी से शराब जप्‍त की गईा थाना वापसी पर आरोपी के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर अभियोग-पत्र माननीय न्‍यायालय के समक्ष प्रस्‍तुत किया गया। प्रकरण की सुनवाई वीडियो कान्‍फ्रेसिंग के माध्‍यम से की गई।

माननीय न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी श्री मनोज कुमार भाटी, आष्‍टा, सीहोर द्वारा राजाराम पिता इलाव सिंह बारेला, निवासी-इन्‍द्रा कॉलोनी, सिद्दीकगंज को धारा 34 (1) म.प्र. आबकारी अधिनियम में न्‍यायालय उठने तक की सजा एवं 2500/-रूपये  हजार रूपये के अर्थदण्‍ड से दण्डित किया गया।

शासन की ओर से पैरवी श्री महेन्‍द्र सितोले, सहायक जिला अभियोजन अधिकारी, आष्‍टा, सीहोर द्वारा की गई।

 

 

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *