इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाकर इस देश में लोकतंत्र की हत्या की थी – हर्णे

10:00 pm or June 25, 2021
इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाकर इस देश में लोकतंत्र की हत्या की थी - हर्णे
सौरभ तिवारी
होशंगाबाद २५ जून ;अभी तक;  भारतीय जनता पार्टी द्वारा शुक्रवार को आपातकाल के काले दिवस पर 19 माह जेल में यातनाएं सहने वाले लोकतंत्र सेनानियों ( मीसाबंदियों ) का सम्मान उनके घर जाकर शाल श्रीफल एवं पौधा देकर किया गया। आपातकाल के दौरान दमनकारी कांग्रेस सरकार के खिलाफ़ मुखर रहे लोकतंत्र सेनानी ( मीसाबंदी ) पूर्व मंत्री मधुकर राव हर्णे , शम्भू सोनकिया , सुरेश राने का सम्मान किया गया। पूर्व मंत्री मधुकर हर्णे ने आपातकाल के काले दिन को याद करते हुए कहा कि 25 जून 1975 को इंदिरा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार ने आपातकाल लगाकर इस देश में लोकतंत्र की हत्या की थी। जनता से उनकी आज़ादी छीन ली गई। प्रेस पर सेंसरशिप लगाई गई एवं जिन्होंने इसका विरोध किया उन्हें जेल में डालकर यातनाएं दी गई थी। इस  दौरान महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया , जिला उपाध्यक्ष प्रसन्ना हर्णे , वरिष्ठ नेता नीरज बरगले , महेंद्र चौकसे  , लोकेश तिवारी , केशव उर्मिल , कार्यक्रम प्रभारी अभय वर्मा , भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष सागर शिवहरे , नर्मदापुर मंडल अध्यक्ष विकास नारोलिया , ग्रामीण मंडल अध्यक्ष राहुल सोलंकी , महामंत्री अनुराग तिवारी , नगरमंत्री मनीष परदेशी , गोकुल पटेल , ज्योति चौरे , नीलेन्द्र पटेल , प्रशांत तिवारी , ओम राय सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।