इलाज से मंहगी जिला अस्पताल की पार्किंग व्यवस्था

11:23 pm or January 14, 2023

दीपक शर्मा

पन्ना 14 जनवरी अभीतक

जहां एक ओर प्रदेश सरकार द्वारा आम जनता के लिए स्वास्थ सुविधा मुफ्त की गई है तथा किसी प्रकार की राशि नही ली जा रही है। निःशुल्क जांच, इलाज तथा दवाए दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर जिला चिकित्सालय मे वाहन खडा करने की एवज मे मनमानी राशि पीडित मरीजो के परिजनो से वसूली जा रही है। उक्त पांर्किग का ठेका जिला अस्पताल प्रबधंन द्वारा रीवा के ठेकेदार डीके पान्डेय को दिया गया है। जिनके द्वारा बकायदा रेट सूची लगाकर लगातार वसूली की जा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा आम गरीबो को स्वास्थ की व्यवस्थाओं के लिए 5 लाख तक का इलाज भी मुफ्त है। उसके बावजूद पन्ना जिला चिकित्सायल मे अवैधानिक पार्किंग का ठेका संचालित हो रहा है। संबंधित ठेकेदार द्वारा साईकिल के लिए 10 रूपये, दो पहिया वाहन के लिए 20 रूपये तथा चार पहिया वाहन के लिए 40 रूपये 24 घंटा की अवधी मे वसूले जा रहें है। यदि किसी मरीज का इलाज एक सप्ताह चलता है तो उसे सैकडो रूपये केवल वाहन पार्किंग के लग जाते है। क्या मध्य प्रदेश सरकार तथा प्रशासन द्वारा आम गरीबो को जिला अस्पताल मे परेशानी के समय इस प्रकार से अवैध शुल्क लगाकर वसूली कराना कहा तक उचित है। दूसरी ओर ठेकेदार द्वारा लगाई गई सूची मे यह भी लेख किया गया है कि वाहन पार्किंग मे खडा वाहन यदि चोरी हो जाता है या गुम हो जाता है तो इसमे हमारी कोई जिम्मेवारी नही होगी। इस प्रकार के नियम भी बनाये गये है। स्थानीय लोगो ने जिले के क्षेत्रीय विधायक तथा खनिज मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह तथा कलेक्टर पन्ना से वाहन पार्किंग मे लगने वाले शुल्क को समाप्त कराये जाने की मांग की गई है।