ई-ऑक्‍शन निविदाकारों के लिए सुलभ, सरल एवं पारदर्शी माध्‍यम  

7:57 pm or July 28, 2022
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर २८ जुलाई ;अभी तक;  भारतीय रेलवे के नॉन फेयर रेवेन्यू (गैर किराया राजस्व) से संबंधित विभिन्न मदों जैसे पार्किंग, स्टेशन/सर्कूलेटिंग एरिया में कॉमर्शियल विज्ञापन, पे एंड यूज टायलेट एवं पार्सल लीजिंग इत्यादि से सम्बंधित सभी निविदाएं पूर्व में ई-निविदा आईआरईपीएस(इंडियन रेलवे ई-प्रोक्‍योरमेंट सिस्‍टम) के माध्‍यम से आमंत्रित की जाती थी जिसमें काफी समय लगता था तथा कागजी कार्य भी काफी होता था। इस कठिन एवं विस्‍तृत प्रक्रिया के स्‍थान पर भारतीय रेलवे द्वारा ई-ऑक्‍शन प्रक्रिया को आरंभ किया गया जिसमें काफी कम समय लगता है तथा ठेका आवंटन की पूरी प्रक्रिया काफी शीघ्रता से किया जाता है। इसमें निविदा खुलने के लगभग आधे घंटे के भीतर पार्टी द्वारा दिए गए प्रस्‍ताव का स्‍वीकृति पत्र पार्टी को जारी कर दिया जाता है।
ई-ऑक्शन वर्तमान परिप्रेक्ष्य‍ में काफी सरल, सुगम एवं पारदर्शी माध्यम है जिसमें ई-ऑक्शन के प्रारंभ होने के 30 मिनट तक पार्टियॉं उनकी इच्छुक सम्बंधित लॉट के लिए ऑनलाइन बोली लगा सकती है एवं यदि कोई अन्य पार्टी सामान लॉट के लिए बोली लगाती है तो पार्टी दूसरे के बोली को ऑनलाइन देख सकता है तथा उसके अनुसार अपना मूल्य् बढाकर निर्धारित कर सकता है। इसमें किसी भी निविदाकार को रेल प्रशासन द्वारा निर्धारित किया गया रिजर्व प्राइस(आरक्षित दर) नहीं दिखाई देता है। यह पूर्ण प्रक्रिया ऑनलाइन है जिसमें कोई भी निविदाकार अपने घर/कार्यालय में बैठकर प्रतिभागी बन बोली लगा सकता है जिसके लिए उन्हें भारतीय रेलवे के ई-ऑक्शेन में रजिस्ट्रे शन कराना होता है।
इच्छुक पार्टी www.ireps.gov.in वेबसाइट के ई-ऑक्‍शन लीजिंग में जाकर रु.10,000/- रजिस्ट्रेशन फी का ऑनलाइन भुगतान कर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।  ई-ऑक्‍शन लीजिंग से सम्बंधित ऑक्शन में भाग लेने के लिए सम्बंधित पार्टियों को भारतीय स्टेट बैंक में करंट अकाउंट खुलवाकर करंट खाते को ई-ऑक्‍शन लीजिंग से कनेक्ट करना पड़ता तथा एक बार रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद निविदाकार भारतीय रेलवे के सभी मंडलों, क्षेत्रीय मुख्यालयों, उत्पादन इकाइयों इत्यादि के ई-ऑक्शन में भागीदार बन सकते हैं।
पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल द्वारा उक्त ई-ऑक्शन प्रक्रिया को पालन करते हुए पार्किंग, पार्सल लीजिंग, नॉन फेयर रेवेन्यू  एवं पे एंड यूज के तहत 25 जुलाई, 2022 से ई-ऑक्‍शन प्रकिया आरंभ की गई तथा  कुल 136 लॉट के लिए 13 कैटेलॉग का प्रदर्शन किया गया है जिसमें कुल 2 कैटेलॉग  में 10 पार्टियों का प्रस्ताव आया है तथा 2 कैटेलॉग में लगभग 56 लाख मूल्य को 10 लॉट (ठेकों) का है आवंटन हो चुका है।