उच्च शिक्षा मंत्री डॉ यादव ने दलोदा में 7 करोड़ 99 लाख रुपए से निर्मित होने वाले कॉलेज का भूमिपूजन किया

7:03 pm or January 15, 2022
महावीर अग्रवाल
 मन्दसौर 15 जनवरी ;अभी तक;  उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री डॉ मोहन यादव ने विश्व बैंक योजना के तहत प्रस्तावित महाविद्यालय भवन दलोदा का भूमि पूजन किया। यह भवन 7 करोड़ 99 लाख रुपए की लागत से निर्मित किया जाएगा। इस भवन का निर्माण पीआईयू विभाग द्वारा किया जाएगा। भूमि पूजन अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ यादव द्वारा कहा गया कि दलोदा में शिक्षा का मंदिर बनने जा रहा है। इस मंदिर के बन जाने से नवीन पीढ़ियों में निखार आएगा। अब कॉलेज भी अपने स्तर से नए कोर्स को खोल सकते हैं। जिससे स्वरोजगार के क्षेत्र में एक नवीन आयाम होगा। मंदसौर महाविद्यालय विज्ञान सम्मेलन का आयोजन कराएं तथा उसमें वैज्ञानिकों एवं विद्वानों को बुलाएं तथा छात्रों को परिचित करवाएं। जिससे छात्रों में नवीन ज्ञान का संचार व उत्साहवर्धन होगा। रोजगार मेले में भी उच्च शिक्षा विभाग को जोड़ा जाए। अब एनसीसी, एनएसएस के अंक भी डिग्रियों में शामिल किए जाएंगे। जिससे एनसीसी, एनएसएस का महत्व भी अंकसूची दिखेगा।
                         उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि आने वाले समय में विश्वविद्यालय स्तर से एक अधिकृत अधिकारी वर्ष में तीन बार कॉलेजों का भ्रमण करेगा तथा वहां पर बच्चों की शिकायतों का समाधान करेगा। जिससे बच्चों को इतनी दूर विश्वविद्यालय तक नहीं जाना पड़े। उनका समाधान कॉलेज स्तर से ही हो जाएगा। सरकार ने कोविड-19 में भी उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर प्रयास किए हैं। शिक्षा की जो मांगे थी सब को पूरा किया है। सरकार लगातार गुणात्मक शिक्षा पर जोर दे रही है, जिस पर कार्य कर रही है। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती प्रियंका मुकेश गिरी गोस्वामी, मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसौदिया, मंदसौर जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री शांतिलाल मालवीय, श्री मदनलाल राठौर, श्री नानालाल अटोलिया सहित सभी जनप्रतिनिधि, साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों में कलेक्टर श्री गौतम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पांडे, मंदसौर एसडीएम श्री बिहारी सिंह, लीड कॉलेज के प्राचार्य डॉ सोहनी बड़ी संख्या में विद्यार्थी एवं पत्रकार मौजूद थे।
                           इस अवसर पर मंदसौर विधायक श्री सिसोदिया द्वारा कहा गया कि दलोदा कॉलेज की स्वीकृति एवं निर्माण में विद्यार्थी परिषद का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है। इस कॉलेज के बन जाने से दलोदा क्षेत्र के लगभग 70 से 75 गांव लाभान्वित होंगे तथा यहां पर लगभग 2 से 3 हजार बच्चे अध्ययन करेंगे। अब उन सभी बच्चों को मंदसौर 20 किमी की दूरी तय करके नहीं जाना पड़ेगा। अब उन्हें कॉलेज की शिक्षा दलोदा से ही मिल जाया करेगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 सरकार के द्वारा शुरू हुई है, जो कि कॉलेज में बच्चों को आत्मनिर्भर बनाने के क्षेत्र में सरकार की बहुत ही अग्रणी पहल है। उसी कड़ी में मंदसौर महाविद्यालय के प्रोफेसर हर्बल, जैविक खेती, वेब डिजाइन आदि के क्षेत्र में बच्चों को नवीन नवाचार सिखा रहे हैं। जिससे बच्चे स्वयं आत्मनिर्भर बन सके।