ओमकारेश्वर में आज राजस्थान का बालक डूबा खोज जारी बांध के कारण पानी का लेवल कम ज्यादा होने से डूबने की घटनाएं बढ़ी

 प्रदीप सेठिया
बड़वाह ८ सितम्बर ;अभी तक; यहां से 17 किलोमीटर दूर खंडवा जिले में स्थित प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग नगरी ओमकारेश्वर में आज सुबह नर्मदा में स्नान कर रहा 14 वर्षीय बालक नीरज पिता बबलू निवासी ग्राम मामचा हरि जिला करौली राजस्थान डूब गया ।
              मांधाता के थाना प्रभारी गणपत कनेल ने बताया कि बालक की खोजबीन गोताखोरों द्वारा की जा रही है । वह परिवार जनों के साथ यहां आया था । चक्रतीर्थ घाट पर स्नान करते वक्त गहरे पानी में चला गया ।
          स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता ललित दुबे ने बताया कि ओमकारेश्वर बांध के एन एच डी सी प्रशासन द्वारा पानी कम ज्यादा नियंत्रित किया जाता है यहां नदी में पानी का लेवल जब कम कर दिया जाता है तो श्रद्धालु जन गहरे पानी के गड्ढों की ओर बढ़ जाते हैं और डूब जाते हैं विगत एक माह में श्रद्धालुओं के डूबने की यह चौथी घटना है ।
            विश्व हिंदू परिषद के ओमकारेश्वर प्रखंड के महामंत्री जयपाल सिंह चौहान ने कहा कि लोग असमय काल का ग्रास बन गए हैं इसकी वजह बांध प्रशासन द्वारा कम ज्यादा पानी का स्तर करना है पानी कम होने से काई के कारण श्रद्धालु जन फिसल जाते हैं उन्हें गंभीर चोट लगने से घायल हो जाते हैं घाट पर स्थाई सुरक्षा गार्ड व गोताखोरों की व्यवस्था भी की जाना चाहिए चौहान ने उक्त  समस्या का हल नहीं होने पर जन आंदोलन की चेतावनी दी है इस क्षेत्र के पुनासा एसडीएम चंद्र सिंह सोलंकी ने बताया कि नर्मदा हाइड्रो इलेक्ट्रिक डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा विद्युत कंपनी द्वारा दिए गए कार्यक्रम के अनुसार बिजली उत्पादन किया जाता है उसी के अनुसार यहां पानी का लेवल कम ज्यादा होता है तीज त्यौहार पर स्नान हेतु प्रशासन द्वारा एन एच डीसी से पानी छोड़ने के लिए अनुरोध किया जाता है