ओम की ध्वनि से गूंज उठा आराधना हाल

6:07 pm or June 19, 2022

महावीर अग्रवाल

मंदसौर १९ जून ;अभी तक;  पशुपतिनाथ प्रांगण में आयुष विभाग मध्यप्रदेश,दशपुर बीसा पोरवाल सोश्यल ग्रुप  व भारत स्वाभिमान न्यास के संयुक्त तत्वाधान में ओम के उच्चारण के साथ एडवांस योग प्रशिक्षण का आरंभ हुआ।

कार्यक्रम से पहले जेल अधीक्षक के. पी. सिंह, जिला आयुष अधिकारी नीलम कटारे, योग दिवस नोडल अधिकारी डॉ कमलेश धनोतिया, दशपुर बीसा पोरवाल सोशल ग्रुप के संरक्षक निर्मल मच्छी रक्षक, संस्थापक अध्यक्ष नितेश पोरवाल,विनोद पोरवाल सचिव मन्दिर ट्रस्ट,संयोजक योगेश पटेल, भारत स्वाभिमान सदस्य डॉ नीलेश जैन द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ।

उपस्थित योग साधकों को योग प्रशिक्षक महेश कुमावत द्वारा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के प्रोटोकॉल के साथ साथ  सूक्ष्म व्यायाम व ध्यान का अभ्यास कराया गया। हस्त मुद्राओं का महत्व बताते हुए महेश कुमावत ने बताया कि योग एक संपूर्ण विज्ञान है। वैश्विक दृष्टि से देखा जाए तो योग आज बीहड़ जंगलों व गुफाओं से निकलकर गांव के गलियारों शहरों के कोलाहल में भी शांति की तलाश में भटकते व्यक्तियों की जीवनशैली का का हिस्सा बन रहा है ,अब लोग यह समझ चुके हैं कि योग मात्र जंगलों में बैठकर गुफाओं आदि में छिपकर या घर परिवार व समाज से दूर रहकर केवल साधू सन्यासियों के द्वारा की जाने वाली कोई रहस्यमई विद्या ही नहीं है बल्कि करोड़ों व्यक्तियों के जीवन से जुड़ी हुई पीड़ा का आत्यंतिक समाधान है बहुत सारे लोग इस अनादि सत्य को समझ गए हैं कि योग ही दुखों की आत्यंतिक निवृत्ति का एकमात्र साधन है आज योग लाखों युवाओं के लिए स्वाभिमान के साथ जीने का सहारा भी बना हुआ है।

योग आत्मानुशासन है इससे व्यक्ति स्वयं को संयमित कर मन की निर्मलता व तन का स्वास्थ्य प्राप्त करता है ओर समाज तथा राष्ट्र के लिए हितकारी बन जाता है वसुदेव कुटुंबकम, सह अस्तित्व एवं एकत्व के साथ दिव्य जीवन जीना योग का मुख्य लक्ष्य है योग एक ऐसा विशुद्ध विज्ञान है जिसके माध्यम से व्यक्ति की स्व चेतना का जागरण होता है।

आयुष विभाग के सहयोगी योग प्रशिक्षक के रूप में नितेश जैन पतंजलि योगपीठ से हीरालाल परमार,राकेश सिंह केलवा, सपना नाहर, विशाल पाटीदार,आदित्य पाटीदार,प्रतिभा भट्ट, बृजमोहन सोनी आदिश संस्था सदस्य उपस्थित रहे।