ओवरब्रिज से युवती ने लगाई छलांगः ठग ने खाते से 98 हजार उड़ाए। पुलिस ने नहीं सुनी, तो खुदकुशी की कोशिश

मयंक शर्मा
खंडवा  ३० दिसंबर ;अभी तक;  खंडवा में गुरुवार को युवती रेलवे ओवरब्रिज से 40 फीट नीचे
पटरियों पर कूद गई। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया
गया। करीब 40 फीट नीचे रेलवे पटरी पर गिरने से गंभीर रूप से घायल हो गई।
रेलवे ओवरबिज से् युवती ने लगाई छलांग
               घटना गुरुवार अपरान्ह की है।  डायल 100 के साथ मौके पर पहुंचे
पुलिसकर्मियों ने युवती को जिला अस्पताल पहुंचाया जहां उसका इलाज चल रहा
है। कोतवाली थाना प्रभरी बीएल बिसेन ने बताया कि पीडिता  छोटी बोरगांव
निवासी मनीषा परमार(21साल)है। वह अपनी मोपेट क्रमांक
एमपी-12-एमडब्ल्यू-3673 से ओवरब्रिज पर पहुंची। प्रत्यक्षदर्शियों के
अनुसार युवती ने साइड में मोपेड खड़ी कर मोबाइल पर किसी से  करीब 10 मिनट
बात करने के बाद पुल की रैलिंग पर चढ़ी और अचानक छलांग लगा दी।
श्री बिसेन ने बताया  ऑनलाइन ठग ने एटीएम का पिन पूछकर पीडिता के खाते से
98 हजार रुपए उड़ा दिए।परिजन के अनुसार  ये पैसे पिता ने बड़ी बहन की शादी
के लिए जमा किए थे।
                    पीडिता  गूगल पर जॉब सर्च कर रही थी, तभी ठग ने फोन कर एटीएम नंबर लिया।
बैंक खाते 98 हजार रुपए निकाल लिए। उसने पुलिस में भी शिकायत की थी,
लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर वह आहत हो गई और खुदकुयाी के लिये ्िरज े
छलांग गा दी। युवती ने मजदूर मां-बाप को लेकर पुलिस में शिकायत की।
पीडिता के पिता परिमाल सिंह यादव अशोकनगर जिले के रहने वाले हैं। करीब 12
साल से खंडवा स्थित अजय एग्रो मिल में मजदूरी करते हैं। मनीषा एमएलबी
स्कूल में कक्षा 12वीं की छात्रा है। उन्होन बताया कि ठगी होने की बात
बतायी तो थाना पदमनगर गए। जहां शिकायत दर्ज करवाई, लेकिन पुलिस ने
कार्रवाई नहीं की। इसके बाद मैंने खाते में बचे करीब 70 हजार रुपए एटीएम
से निकाल लिए। उनकी पांच बेटियां हैं। फैक्ट्री में रहकर ही पत्नी बिरमा
के साथ रात-दिन काम करते हैं। उन्होने कहा कि  बुधवार को पुलिस ने
रिपोर्ट नहीं लिखी। वह सुबह से खंडवा में थे। थाने के बाद दो बार एसपी
ऑफिस गए। जहां बैंक स्टेटमेंट लाने को कहा, तो हम बॉम्बे बाजार स्थित
स्टेट बैंक ऑफिस इंडिया आए। अंदर जाकर बैंक के अधिकारी से बात की, तभी
मैं और बेटी बाहर कुर्सी पर बैठे थे। वह अचानक उठकर बाहर चली गई। डेढ़
घंटे बाद पुलिस का फोन आया कि बेटी पुल से नीचे गिर गई है।