कटंगी क्षेत्र के ग्राम कालीमाटी में बाल विवाह रूकवाया गया

7:34 pm or May 30, 2022

आनंद ताम्रकार

बालाघाट ३० मई ;अभी तक;

एकीकृत बाल विकास परियोजना कटंगी के अंतर्गत ग्राम कालीमाटी में होने जा रहे बाल विवाह को अधिकारियों की सजगता से रूकवाने में सफलता हासिल हुई है। अधिकारियों के समझाने पर बालिका के परिजन उसके 18 वर्ष की होने पर विवाह कराने पर सहमत हो गये है।

बाल विकास परियोजना अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र रानाडे ने बताया कि ग्राम कालीमाटी में बाल विवाह होने की सूचना प्राप्त हुई थी। इस सूचना के आधार पर आज दिनांक 30 मई 2022 को मौके पर पहुंचकर होने वाले बाल विवाह को रुकवाया गया। सूचना प्राप्त हुई थी कि ग्राम कालीमाटी में एक विवाह सम्पन्न होने वाला है जिसमें बालिका की उम्र 18 वर्ष से कम है। सूचना उपरांत वे स्वयं पर्यवेक्षक श्रीमती सरला भोर, श्रीमती श्रद्धा पटले, आंगनवाडी कार्यकर्ता श्रीमती कीर्तना वासनिक, श्रीमती मोहरन राहंगडाले तथा अन्य ग्रामवासियों के साथ संबंधित व्यक्ति के घर पहुंचे। बालिका का विवाह विकासखण्ड खैरलांजी जिला बालाघाट के ग्राम लिलामा निवासी युवक के साथ दिनांक 15 जून 2022 को तय होना पाया गया । बालिका की जन्मतिथि कक्षा 7 वीं की अंकसूची में 13 नवंबर 2007 अंकित है जिसके आधार पर विवाह दिनांक को बालिका की आयु 14 वर्ष 6 माह पाई गई । बालिका के परिवार जनों तथा रिश्तेदारों को बाल विवाह निषेध अधिनियम 2006 के विषय में जानकारी दी गई तथा बाल विवाह होने पर होने वाली सजा के प्रावधानों के संबंध में बताया गया। समझाईश उपरांत परिवारजनों ने विवाह को बालिका के 18 वर्ष की आयु होने के बाद करने की सहमति दी