कन्या छात्रावास के स्टोर रूम में लगी आग, घंटों मशक्कत के बाद काबू पाया गया

7:00 pm or August 5, 2022

मयंक भार्गव

बैतूल ५ अगस्त ;अभी तक;  नगर के इटारसी रोड स्थित आईटीआई के पीछे स्थित शासकीय कन्या छात्रावास के स्टोर रूम में बीती रात्रि 2 बजे के दरम्यिान आग लगने से छात्रावास में हडक़म्प मच गया था। आग उस समय लगी जब छात्राएं छात्रावास में सो रही थी। आनन-फानन में छात्रावास की भृत्य ने अधीक्षिका को आग लगने की सूचना देने के साथ-साथ सभी 30 बालिकाओं को नींद से जगाकर दूसरे छात्रावास में शिफ्ट किया जिससे बड़ी घटना होने से टल गई। वहीं स्टोर रूम में रखी पूरी सामग्री खाक में तब्दील हो गई।
तीन दमकलों ने 6 घंटे में बुझाई आग
शासकीय कन्या छात्रावास में स्टोर रूम में भीषण आग लग गई । आग को काबू करने में तीन दमकल की टीम को 6 घंटे लग गए । छात्रावास की महिला कर्मचारी की नींद खुली तो उसने आग देखी तो छात्राओं को उठाकर बाहर कर दिया। स्टोर रूम में रखा सामान जलकर खाक हो गया। स्टोर रूम में लगी आग का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि तीन फायर बिग्रेड को काबू पर पाने में सुबह हो गई तब कहीं जाकर आग बुझ पाई।
महिला भृत्य की सतर्कता से टला हादसा
अनुसूचित विभाग द्वारा संचालित नवीन सीनियर कन्या छात्रावास बैतूल क्रमांक 3 के स्टोर रूम में रात में आग लगने से हडक़ंप मच गया था। बताया जा रहा है कि छात्रावास में छात्राएं सो रही थी। गुरुवार की रात लगभग 2 बजे छात्रावास की महिला कर्मचारी (भृत्य) सीमा मरकाम की नींद खुली तो उसने देखा स्टोर रूम में भयंकर आग लगी हुई है। सीमा मरकाम ने तत्काल अधिकारियों को सूचना दी और छात्राओं को उठाया और छात्रावास से बाहर कर दूसरे छात्रावास में शिफ्ट कराया। जिस समय आग लगी उस समय छात्रावास में 30 छात्राएं मौजूद थी।
शार्ट सर्किट से लगी आग
छात्रावास के स्टोर रूम में प्रथम दृष्टया शार्ट सर्किट से आग लगना माना जा रहा है। आग इतनी भयंकर थी कि कुछ ही देर में आग की लपटें उठने लगी। स्टोर में रखा हुआ सामान पूरा जलकर खाक हो गया है । छात्रावास के गद्दे और अन्य सामग्री भी जल गई है। आग पर काबू पाने के लिए दमकलों के कर्मचारियों को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी तब कहीं जाकर आग पर काबू पाया जा सका।
इनका कहना…
रात में 2 बजे सूचना मिली थी कि छात्रावास के स्टोर में आग लग गई तत्काल ही छात्रावास की बच्चियों को दूसरे छात्रावास भेजा काफी नुकसान हुआ है आग शॉर्ट सर्किट से लगी है।
सरिता माहौलकर, छात्रावास अधीक्षिका

हम लोग सो रहे थे।  बुआ ने जब स्टोर रूम में आग देखी तो हम सभी को नींद से उठाकर सुरक्षित रूप से दूसरे छात्रावास में पहुंचाया। स्टोर रूम से तेज आगे की लपटे उठ रही थी जिससे हम लोग डर गए थे।
करीना कचाहे, छात्रा