कमिश्नर श्री चन्द्रशेखर ने संभाग के अधिकारियों को दिये  बाढ़ आपदा प्रबंधन के लिए तैयारियों के निर्देश

आनंद ताम्रकार
बालाघाट १५ जून ;अभी तक;

जबलपुर संभाग के कमिश्नर श्री बी चन्द्रशेखर ने आज 15 जून को बालाघाट कलेक्ट्रेट सभाकक्ष से वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से जबलपुर संभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर बाढ़ आपदा प्रबंधन के लिए समय ये पहले तैयारी करने के निर्देश दिये। इस बैठक में कलेक्टर श्री दीपक आर्य, होमगार्ड के कमांडेट एवं सिंचाई विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। जबलपुर संभाग के सभी जिलों के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, एसडीएम, होमगार्ड कमांडेंट एवं सिंचाई विभाग के अधिकारी वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से इस बैठक में शामिल हुए।
             कमिश्नर श्री चन्द्रशेखर ने बैठक में संभाग के सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे बाढ़ की स्थिति में त्वरित बचाव एवं राहत कार्य के लिए अपना सूचना तंत्र मजबूत एवं सशक्त बनाये रखें। जिससे जलाशयों एवं बांध से पानी छोड़े जाने की सूचना समय रहते निचले क्षेत्र के लोगों को दी जा सकेगी और जान-माल के नुकसान से बचा जा सकेगा। नेशनल हाईवे, स्टेट हाईवे, मध्यप्रदेश सड़क विकास प्राधिकरण की सड़के, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना की सड़के, लोक निर्माण विभाग की सड़के एवं अन्य सड़कों पर पड़ने वाले नदी-नालों के पुल-पुलिया, जो अधिक वर्षा या बाढ़ की स्थिति में पानी में डूब जाते हैं, वहां पर बेरियर लगाये जायें । ऐसे पुल-पुलिया पर पानी आने पर वहां पर तीन लोगों की ड्यूटी लगाई जाये, जिसमें एक होमगार्ड का जवान, एक कोटवार एवं एक अन्य जिम्मेदार व्यक्ति अनिवार्य रूप से शामिल होना चाहिए।
             कमिश्नर श्री चन्द्रशेखर ने संभाग के सभी जिलों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे बाढ़ की स्थिति में प्रभावित लोगों को ठहराने एवं राहत पहुंचाने के लिए ऊंचे स्थानों पर बने शासकीय भवनों को चिन्हित कर लें। होमगार्ड के संभागीय कमांडेट को निर्देशित किया गया कि वे बोट, लाईफ जैकेट, रस्से, टार्च एवं अन्य जरूरी सामग्री अपने कार्यालय के वाहन में हमेशा तैयार रखें और उसका ड्रायवर हर समय उपलब्ध रहे। वाहन एवं बोट में ईंधन पर्याप्त मात्रा में रहे । तैराक दल को चिन्हित करके रखें। जिससे जरूरत के समय प्रभावित लोगों के लिए समय पर बचाव एवं राहत कार्य किया जा सकेगा।