करोना काल मे भी स्मृति बैंक का व्यापार बढ़ा, 2 लाख ग्रहको को उपलब्ध करवाई मोबाईल सुविधा

महावीर अग्रवाल
मंदसौर १० जून ;अभी तक;  मंदसौर की स्मृति बैंक अपनी स्थापना से लेकर अभी तक लाभ अर्जित करता चला आ रहा है। बैंक का व्यापार बढ़ा है ।करोनाकाल में भी बैंक की तरक्की के उत्साहजनक परिणाम प्राप्त हुए है। स्मृति बैंक कर्मियों के समर्पण और निष्ठा के कारण यह बैंक प्रदेश का सबसे बड़ा नागरिक सहकारी बैंक बन गया है।
               स्मृति नागरिक सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री सुरेंद्र नाहटा ने बताया कि करोना काल मे जहां व्यापार प्रभावित हुआ वहीं स्मृति बैंक के उत्साहजनक परिणाम इस दौरान प्राप्त हुए है। बैंक ने वर्ष 20-21 में तरक्की की है और उत्साहजनक परिणामो के फलस्वरूप बैंक का व्यापार 17 प्रतिशत से अधिक बढ़ा है वहीं एनपीए 34 प्रतिशत से अधिक घटा है। बैंक के समुचित प्रावधानों के बाद एनपीए घटकर मात्र 0.58 प्रतिशत रह गया है।
                श्री नाहटा ने बताया कि 1999 में बैंक की स्थापना के पहले वर्ष से बैंक लाभ अर्जित करता चला आ रहा है। प्रारंभ से ही शेयर होल्डर को बैंक डिविडेंड देता चला आ रहा है।   उन्होंने बताया कि स्मृति बैंक प्रदेश का एक मात्र ऐसा बैंक है जो राष्ट्रीयकृत बैंकों के समान ग्राहको को सुविधाएं उपलब्ध कराता चला आ रहा है। स्मृति बैंक ने इस वर्ष से अपने 2 लाख ग्राहको को मोबाईल बैंकिग की सुविधा भी उपलब्ध करवा दी है। रतलाम, मंदसौर और नीमच जिलों में इस बैंक के द्वारा 17 ग्रामों में ए.टी.एम. की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने बताया कि स्मृति बैंक निकट भविष्य में जावरा और नीमच में अपने कार्यालय स्थापित करने जा रहा है।
               श्री नाहटा ने बताया कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा स्मृति बैंक को आर टी जी एस और एन ई एफ टी करने की अनुमति भी दे दी है। संभावना है कि अगले एक माह में यह सुविधा ग्राहको को उपलब्ध हो जाएगी। बैंक के बढ़ते व्यापार और ग्राहको के विश्वास का ही यह परिणाम है ।बैंक अध्यक्ष श्री नाहटा ने इसके लिए बैंक के शेयर होल्डर और बैंक कर्मियों को बधाई देते हुए विश्वास व्यक्त किया है कि आने वाले वर्षों में इस बैंक के और बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे। उन्होंने यह भी बताया कि पिछले वर्ष रिजर्व बैंक ने स्मृति बैंक पर अपने शेयर होल्डरों को डिविडेंड देने पर रोक लगाई थी लेकिन इस वर्ष शेयर होल्डरों को डिविडेंड प्राप्त हो सकेगा।