कलेक्टर तीन घंटे तक इंतजार के बाद भी नहीं निकले तो  किसानों ने किया हंगामा

मयंक शर्मा

खंडवा २८ अगस्त ;अभी तक;  भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में जिले के लगभग 300 किसानों ने कलेक्टर अनय द्विवेदी से मिलकर अपनी समस्याओं को बताने की इच्छा जताई लेकिन कलेक्टर अनय द्विवेदी ने अपने केबिन (कक्ष)से बाहर आकर किसानों से मिलने से इंकार कर दिया. जिसके बाद किसानों का गुस्सा सातवें आसमान जा पहुंच गया और किसानों ने कलेक्टर की गाड़ी के सामने बैठकर जमकर नारेबाजी की .

दरअसल, जिले में अतिवृष्टि के कारण किसानों की सोयाबीन सहित दूसरी फसलें बर्बाद हो गई हैं. जिससे किसान काफी परेशान हैं और अपनी समस्याओं को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे थे. लेकिन 3 घंटे कलेक्टर परिसर में बैठने के बाद भी कलेक्टर अनय द्विवेदी ने किसानों से मिलना उचित नहीं समझा.। इसके बाद किसान आक्रोशित हो गए । किसानों ने ज्ञापन को फाड़कर अपना विरोध दर्ज कराया. । कलेक्ट्रेट परिसर में जमकर नारेबाजी की और धरना प्रदर्शन किया.।

संघ के जिला अध्यक्ष सुभाष पटेल ने बताया कि जिले में सोयाबीन किसानों की हालत बेहद खराब है. इस साल अत्यधिक वर्षा से किसानों की फसल पूरी तरह खराब हो चुकी है. इसी की वास्तविक स्थिति बताने के लिए किसान आज कलेक्टर से मिलने के लिए आए थे. लेकिन कलेक्टर ने किसानों से मिलने से इंकार कर दिया और वह अपने केबिन से बाहर नहीं निकले, ऐसे में हम लोगों ने कलेक्टर की गाड़ी के आगे बैठकर धरना दिया. वहीं कुछ किसान कलेक्टर की कैबिन में जाकर कलेक्टर से मुलाकात की, जिसमें यह बताया गया कि पांच दिनों के अंदर हर गांव में फसलों का सर्वे शुरू किया जाएगा.

 

 

 

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *