कलेक्टर ने जारी किए आदेश, खंडवा-ओंकारेश्वर-इंदौर मार्ग पर रहेगा प्रतिबंध, परिवर्तित किया गया मार्ग

12:47 pm or July 24, 2022
मयंक शर्मा
खंडवा २४ जुलाई ;अभी तक; सार्वजनिक सुरक्षा एवं सुविधा की दृष्टि से जन सामान्य एवं श्रद्धालुओें की सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर अनूप कुमार सिंह ने हाइवे में भारी वाहनों के संचालन के संबंध में शनिवार को एक आदेश जारी कर दिया। जो तत्काल प्रभाव से प्रभावी है।
                 हाल ही में . हरिद्वार से ग्वालियर जा रहे कावड़ यात्रियों को हाथरस के पास ट्रक से रौंद देने की घटना के बाद खंडवा जिला प्रशासन ने खंडवा- इन्दौर मार्ग को भारी वाहनों के लिए प्रतिबंधित किया है। भारी वाहनों के आवागमन में कोई व्यवधान ना हो इसके लिए अन्य वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था है।
               कलेक्टर ने कहा कि जनहित में लोक सुरक्षा के लिए आवश्यक है।श्रावण माह में कावड़ लेकर श्रद्धालु पद यात्रा कर खंडवा से ओंकारेश्वर तक बड़े समूह के रूप में जा रहे हैं। खंडवा- इंदौर मार्ग अति व्यस्ततम सड़क मार्ग है। जिसमें भारी एवं हल्के वाहन का आवागमन निरंतर रूप से चलता रहता है।
                जारी आदेश में लेख है कि अत्यंत आवश्यक है कि खंडवा- इन्दौर मार्ग को भारी वाहनों के लिए प्रतिबंधित किया जाए एवं भारी वाहनों के आवागमन में कोई व्यवधान ना हो इसके लिएअन्य वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था भी की जाए। । कलेक्टर ने आदेश दिया है कि श्रावण मास में सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक इंदौर- इच्छापुर मार्ग पर भारी मालयान संचालित किया जाना प्रतिबंधित रहेगा। इस मार्ग पर भारी मालयान संचालित नहीं होंगे। खंडवा से इंदौर जाने वाले भारी वाहन खंडवा जिले के देशगांव, खरगोन, धामनोद होते हुए एबी रोड़ तक पहुंचेंगे। इंदौर से चलने वाले भारी वाहन खरगोन जिले से होते हुए खंडवा के देशगांव में प्रवेश कर अपने गंतव्य तक पहुंचेंगे। आवश्यक सेवाओं में लगे वाहनों को प्रतिबंधित आदेश से पूर्णतः मुक्त रखा जाएगा। इनमें दुग्ध वाहन, नगर निगम की स्वास्थ्य सेवाओं में लगे वाहन, पुलिस वाहन, फायर बिग्रेड, पानी टैंकर, आर्मी के वाहन, विद्युत मंडल के
कार्य में संलग्न वाहन, एलपीजी/ पेट्रोलियम पदार्थ वाहन, कृषि उपज मंडी में सब्जी ले जाने वाले वाहन, यात्री बसें शामिल हैं।