कलेक्टर विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्क्ड़ जनजाति लोगों का गांव-गांव सर्वे करके गरीबी रेखा में नाम जोड़े : मंत्री श्री पटेल

7:19 pm or October 28, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर 28 अक्टूबर ;अभी तक;  पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्क्ड़ जनजाति कल्याण विभाग तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत मंदसौर जिले के प्रभारी राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल ने सीतामऊ विधानसभा क्षेत्र के गांव अजयपुर तथा गरोठ विधानसभा क्षेत्र के गांव बाबुल्दा में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए।
                                 इस दौरान राज्य मंत्री श्री पटेल ने कहा कि मंदसौर जिले में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत बेहतर काम किया है। इसके लिए सभी प्रशासनिक अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि प्रशंसा के पात्र हैं। उन्होंने कलेक्टर को निर्देश देते हुए कहा कि विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्क्ड़ जनजाति के लोग जहां जहां जिस भी गांव में रहते हैं। वहां पर सर्वे करके उनके नाम गरीबी रेखा में जोड़े जाए। पिछड़ा वर्ग के अंतर्गत भी बहुत से लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं। उनके नाम भी सर्वे करके गरीबी रेखा में जोड़ें जाएं। इसके साथ ही घुमंतू जनजाति लोग जहां पर रहते हैं वहां पर मुख्यमंत्री भू अधिकार योजना के अंतर्गत चिन्हित कर उन्हें पट्टा प्रदान करें। जिससे उनके प्रधानमंत्री आवास बन सके। इन जनजातियों में जो अपराध करेगा, वही अपराधी होगा। पूरी जाति को अपराध के रूप में नहीं माना जाएगा। इसके साथ ही ग्राम अजयपूरा में उन्होंने दो मांगलिक भवन बनाने की भी घोषणा की। इसके साथ ही सभी अधिकारी सरकार की योजनाओं का लाभ आम नागरिकों को अक्षरशः दिलाएं।
                                      कार्यक्रम के दौरान नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग, जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती दुर्गा विजय पाटीदार, गरोठ विधायक श्री देवीलाल धाकड़, पूर्व विधायक श्री राधेश्याम पाटीदार, पूर्व विधायक श्री चन्‍द्ररसिंह सिसौदिया,  जनपद पंचायत सीतामऊ के अध्यक्ष प्रतिनिधि, उपाध्यक्ष श्री जितेंद्र चौहान, जिला एवं जनपद पंचायत के अध्‍यक्ष एवं सदस्य सहित अन्य सभी जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारियों में कलेक्टर श्री गौतम सिंह, सीईओ जिला पंचायत सहित सभी जिला अधिकारी, विकासखंड स्तरीय अधिकारी, कर्मचारी, बड़ी संख्या में ग्रामीण जन, हितग्राही पत्रकार मौजूद थे।
                                 उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि सन 2003 के पश्चात देश के साथ-साथ प्रदेश में सड़कों की जाल बिछा है। किसानों को सड़क, पानी, बिजली प्रदान की जा रही है। 0% ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध किया जा रहा है। यहां तक कि सोलर ऊर्जा से मध्य प्रदेश की सोलर ऊर्जा से दिल्ली की मेट्रो ट्रेन चल रही है। 45 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में अब सिंचाई हो रही है। लगातार पांच बार कृषि कर्मण अवार्ड भी मिला है। स्कूलों में बेहतर शिक्षा के लिए सीएम राइज स्कूल शुरू किए गए हैं। बच्चों को दो गणवेश, लैपटॉप, छात्रवृत्ति भी मिल रही हैं। लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत लड़कियों को लाभ प्रदान की जा रही हैं।
                               नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने इस अवसर पर कहा कि एक भी व्यक्ति शासन की योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहेगा और अगर किसी को अभी तक शासन की योजनाओं का लाभ नहीं मिला है तो, वे अभी भी आवेदन कर सकते हैं। सीतामऊ विधानसभा क्षेत्र में 16 अरब 64 करोड़ रुपयों से पानी की व्यवस्था की गई। इसके माध्यम से संपूर्ण क्षेत्र में सिंचाई की व्यवस्था होगी। सरकार जन्म से लेकर मृत्यु तक की योजनाएं लेकर आई है और लाभ दे रही है। यहां तक कि अब सरकार घर-घर पहुंचकर योजनाओं का लाभ प्रदान कर रही हैं। मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के अंतर्गत घर-घर सर्वे हुए। एक एक व्यक्ति से पूछा गया कि, शासन की योजनाओं का लाभ मिला या नहीं। जो वंचित थे उनको अब लाभ प्रदान किया जा रहा है। गांव के विकास की गाथा प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी के समय से शुरू हुई। जो आज तक चल रही है। प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा पीएम आवास, हर गरीब का खाता, उज्जवला योजना जैसी अनेक योजनाएं लेकर आए। इसकी वजह से गरीब का चौमुखी विकास हुआ है। जिन लोगों के कच्चे मकान है। उनका सर्वे हो चुका है। उन सभी को 2024 तक के पीएम आवास प्रदान कर दिए जाएंगे।