कायाकल्‍प योजना में भिण्‍ड जिला चिकित्‍सालय को प्रदेश में द्वितीय स्‍थान प्राप्‍त हुआ

भिण्‍ड से डॉ. रवि शर्मा

भिंड २८ अगस्त ;अभी तक; कायाकल्प योजना में जिला अस्पताल इस बार एक पायदान उचक कर दूसरे नंबर पर आया है लेकिन अपना पहले स्थान पर रहने का खोया हुआ गौरव हासिल नहीं कर सका है। इसके पीछे पहले स्थान पर रहे सिवनी जिलाअस्पताल के कायाकल्प कराने में बड़ी राशि खर्च किए जाने के कारण बताया जा रहा है .

गुरुवार को यह पुरस्कार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा वर्चुअल कायाकल्प पुरस्कार समारोह में दिया गया। पुरस्कार स्वरूप में 10 लाख दिए हैं। जो जल्द ही जिला में अस्पताल को मिल जाएंगे वर्चुअल पुरस्कार वितरण समारोह के वक्त एनआईसी में कलेक्टर वीरेंद्र सिंह रावत सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा सिविल सर्जन डॉ अनिल गोयल  क्वालिटी नोडल अधिकारी डॉ देवेश शर्मा, आरएमओ डॉ आरएन राजोरिया की उपस्थिति रही।

जिला अस्पताल 5 साल पहले टॉप थ्री में शामिल 

यहां बता दें बीते 5 साल से प्रदेश के टॉप थ्री में शामिल रहा है। बस 2016-17व वर्ष 2017-18 में पहले नंबर पर रहा। जबकि इसके पूर्व वर्ष 2015-16 में तीसरे और इसके 2018-19 में तीसरे स्‍थान पर रहा। इस वर्ष एक पायदान ऊंचे उठने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों का हौसला बढ़ा है। अगली बार के लिए और अधिक प्रयास किए गए तो पहले नंबर पर आने की स्थिति बन सकेगी।

अटेर, लहार, गोहद और फूप के स्वास्थ्य केंद्रों को भी मिला पुरस्कार

जिला के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में अटेर, लहार गोहद व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को भी पुरस्कार मिला है। यह योजना लागू होने के बाद से जिला अस्पताल के साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य की व्यवस्था में सुधार हुआ है। मरीजों और उनके परिजनों की सुविधा के लिए कई संसाधन उपलब्ध हुए हैं। साफ सफाई के प्रति सभी का नजरिया बदलना है। डॉक्टर्स व कर्मचारियों की तरफ से अस्पताल में आने वाले मरीजों व उनके परिजन भी अब साफ सफाई के प्रति सचेत रहते हैं।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *