कार्य में अनियमितता एवं लापरवाही के आरोप में महतपुर-जावरा के पंचायत सचिव निलंबित

मयंक भार्गव
बैतूल, 24 अक्टूबर ;अभी तक;  जिले के दूरस्थ अंचल भीमपुर की ग्राम पंचायत दामजीपुरा में शनिवार को आयोजित ग्राम संवाद कार्यक्रम में आमजन की समस्याओं का निराकरण किया गया। इस दौरान लोगों को योजनाओं से संंबंधित जानकारी भी उपलब्ध कराई गई। ग्राम संवाद के दौरान ग्राम पंचायत महतपुर-जावरा के पंचायत सचिव श्री मनोटी मर्सकोले के विरूद्ध कार्य में अनियमितता एवं  लापरवाही की शिकायत मिलने पर कलेक्टर ने निलंबित करने के निर्देश दिए। सीईओ जिला पंचायत श्री अभिलाष मिश्रा भी इस दौरान मौजूद थे।
                     ग्राम संवाद कार्यक्रम में कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस ने महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी अमले से साफ तौर पर कहा कि आंगनबाड़ी से वितरित होने वाले पोषण आहार, टेक-होम राशन एवं रेडी-टू-ईट के वितरण के संबंध में किसी भी स्थान से शिकायत प्राप्त नहीं होना चाहिए। पोषण आहार वितरण व्यवस्था पूरी तरह पारदर्शी रहे। उन्होंने जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि वे सतत पोषण आहार वितरण व्यवस्था पर निगरानी बनाए रखे। लापरवाही मिलने की दशा में संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई की जाए। शिविर में समस्याओं पर आधारित 170 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 26 का मौके पर ही निराकरण किया गया। शेष के निराकरण के लिए समय-सीमा प्रदान की गई। शिविर स्थल पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर भी आयोजित किया गया, जिसमें दिव्यांगजनों को दिव्यांगता प्रमाण पत्र देने की व्यवस्था की गई, इसके अलावा विभिन्न तरह की बीमारियों का नि:शुल्क उपचार भी किया गया। इस दौरान कलेक्टर ने उपचार शिविर का भी अवलोकन किया।

‘चले खेत की ओर’ कार्यक्रम की दी जानकारी
———————————————

शिविर में उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री केपी भगत ने बताया कि जिले में एक अक्टूबर से संचालित ‘चले खेत की ओर’ कार्यक्रम के तहत किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, पशु पालन विभाग, उद्यानिकी विभाग, मत्स्य पालन विभाग, रेशम पालन विभाग द्वारा प्रत्येक ग्राम पंचायत में जाकर आगामी रबी मौसम से संबंधित फसलों की तकनीकी जानकारी एवं खेती-बाड़ी की तात्कालिक समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है एवं उन्नत तकनीकियों की जानकारी दी जा रही है।
कलेक्टर ने पोषण आहार सामग्री से बने व्यंजनों का चखा स्वाद, कहा-वाह क्या लाजवाब हैं
———————————————–
ग्राम संवाद कार्यक्रम स्थल पर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आंगनबाडिय़ों के माध्यम से बच्चों को दिए जाने वाले टेक-होम राशन से बने व्यंजनों की प्रदर्शनी लगाई गई। इस प्रदर्शनी का उद्देश्य टेक-होम राशन से स्वादिष्ट व्यंजन बनाकर बच्चों की पौष्टिक आहार के प्रति रूचि जागृत करना था। पोषण आहार प्रदर्शनी में टेक-होम राशन से बने लड्डू, बर्फी, खुरमी, हलवा, मीठे भजिये, मक्के की रोटी, मक्के की पीठ, चीले, पुदीना की चटनी, ढोकले, प्रीमिक्स खिचड़ी इत्यादि शामिल थे। कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस ने इन व्यंजनों का स्वाद चखा और कहा कि यह लाजवाब हैं, बच्चों के लिए इनका ज्यादा उपयोग हो, इसके लिए जागरूकता लाई जाए। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री मिश्रा ने भी व्यंजनों का स्वाद चखा।