कार व ट्रक से उड़ीसा से रीवा ले जाने की फिराक में थे गांजा, पुलिस के हत्थे चढ़ गए

मोहम्मद सईद
शहडोल 10 जून अभी तक ;  गांजा तस्कर जिले की सीमा से गांजा पार करने को लेकर नई-नई तरकीब अपना रहे हैं। लेकिन पुलिस की मुस्तैदी के चलते उनकी कोई भी तरकीब काम नहीं आ पा रही है। पहले लग्जरी कार में, फिर बाइक में और फिर ऑटो के सहारे गांजा ले जाने की कोशिश की गई। लेकिन उनका मकसद कामयाब नहीं हुआ और वह पुलिस के हत्थे चढ़ गए। अब गांजा तस्करों ने नया तरीका अपनाते हुए ट्रक से गांजा पार करने की जुगत भिड़ाई लेकिन इसमें भी सफल नहीं हो सके। पुलिस ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई करते हुए गांजे की एक बड़ी खेप के साथ 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से लगभग 7 क्विंटल गांजा के साथ ही कार, बाइक और मोबाइल फोन बरामद किया गया है। यह लोग गांजे की खेप को ट्रक में भरकर रीवा ले जा रहे थे।
                स्थानीय कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में शहडोल पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी ने बताया कि मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि नशा माफियाओं द्वारा छत्तीसगढ़ पासिंग के दो ट्रकों एवं बगैर नम्बर की एक ब्रेजा कार से उड़ीसा से शहडोल होते हुए गांजा रीवा की ओर लेकर जाने वाले हैं। ये लोग अलग-अलग रास्तों से शहडोल को पार करने वाले है।
                  उन्होंने बताया कि थाना प्रभारियों को नाकाबंदी हेतु निर्देशित कर त्वरित कार्यवाही हेतु निर्देशित करने पर अमलाई पुलिस द्वारा संदिग्ध ट्रक सी जी 16- 0339 को रोकने एवं कड़ाई से पूछताछ करने पर ट्रक के केबिन व ट्रक के केबिन की छत की तलाशी लेने पर ड्रायवर सीट के पीछे वाले सीट के ऊपर 360 पैकेटों में 3 क्विंटल 60 किलोग्राम गांजा जप्त किया जाकर चालक लक्ष्मण यादव उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम मैगांव थाना रामनगर जिला सतना तथा हेल्पर राजू यादव पिता उम्र 30 वर्ष व ट्रक मालिक सुनील कुमार केसरवानी निवासी ग्राम डोला राजनगर जिला अनूपपुर को गिरफतार किया गया।
                     इन्होने अपने साथी पिंटू गुप्ता निवासी ग्राम पिपरहा थाना राजेन्द्र ग्राम तथा अंशु उर्फ बालमुकुन्द गुप्ता निवासी सिवनी मरवाही छत्तीसगढ़ अवैध गांजे के व्यापारियों द्वारा यह अवैध परिवहन कराया जाना बताया है। आरोपियों के विरूद्ध थाना अमलाई में एनडीपीएस एक्ट सहित अन्य धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया गया है।
               थाना अमलाई में आरोपियों की घेराबंदी के दौरान यह ज्ञात हुआ कि कुछ अन्य ट्रक व वाहन तस्करों द्वारा अलग-अलग रास्तों से पायलेटिंग कर गांजा ले जाया जा रहा है। जिसके पूरे जिले में विभिन्न रास्तों पर नाकाबंदी कर पुलिस की सतर्कता एवं सावधानी से थाना सोहागपुर एवं थाना जयसिंहनगर में सभी आरोपियों को मय माल मशरूका के दबोचा गया। इसी क्रम में सोहागपुर थाना क्षेत्रांतर्गत ट्रक को रोककर तलाशी लेने पर ट्रक के केबिन की पीछे वाली सीट के ऊपर बने कम्पार्टमेंट में 275 नग खाकी रंग के टेप में लिपटे हुए पैकेटों में कुल 288.75 किलोग्राम गांजा जप्त किया जाकर ट्रक ड्रायवर आशीष गुप्ता उम्र 24 साल निवासी ग्राम उमनिया थाना राजेन्द्र ग्राम जिला अनूपपुर तथा उसके हेल्पर संतोष सिंह उम्र 23 साल निवासी ग्राम खोडरी थाना पसान जिला कोरबा को गिरफतार किया गया है। आरोपियों द्वारा यह गांजा ट्रक मालिक अवधेश कुमार बहरेलिया निवासी सन्यासी पारा रामपुर खम्तराई जिला रायपुर, पिंटू गुप्ता उर्फ बनवारी लाल गुप्ता उम्र 28 वर्ष ग्राम पिपरहा थाना राजेन्द्रग्राम एवं बालमुकुंद गुप्ता उर्फ अंशु गुप्ता उम्र 22 वर्ष निवासी मरवाही के द्वारा अवैध परिवहन कराये जाने पर आरोपियों के विरूद्ध थाना सोहागपुर मे अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया है।
                 नशा कारोबारियों द्वारा शहडोल क्रास करने के लिए अपनाये जा रहे अलग अलग रास्तो के आधार पर जयसिंहनगर पुलिस द्वारा मुखबिर सूचना के आधार पर एक संदिग्ध मोटर सायकिल को रोककर कडाई से पूछताछ एवं तलाशी लेने पर 22 किलोग्राम गांजा आरोपी मनीष गुप्ता तथा रोहित गुप्ता उम्र 22 वर्ष दोनों निवासी पिपरहा टोला थाना राजेन्द्रग्राम जिला अनूपपुर के कब्जे से तथा संदिग्ध बिना नंबर की ब्रेजा वाहन में सवार 5 आरोपियों पिंटू गुप्ता उर्फ बनवारी लाल गुप्ता उम्र 28 वर्ष ग्राम पिपरहा थाना राजेन्द्रग्राम एवं बालमुकुंद गुप्ता उर्फ अंशु गुप्ता उम्र 22 वर्ष निवासी मरवाही व हरी टांडिया उर्फ छोटू  उम्र 27 वर्ष निवासी गौरिला जिला कोरिया, हीरालाल गुप्ता उम्र 45 वर्ष निवासी वार्ड नं. 11 जयसिंहनगर जिला शहडोल, दादू पटेल उर्फ रामसजीवन पटेल उम्र 45 वर्ष निवासी को गिरफतार कर इनके संयुक्त कब्जे से ब्रेजा वाहन की तलाशी लेने पर 50 किलोग्राम गांजा एवं दादू पटेल से 85000 रूपये नगद जप्त किये गये है। थाना जयसिंहनगर में आरोपियों के कब्जे से 06 नग एन्ड्राइट फोन तथा 03 नग कीपैड मोबाइल जप्त किये गये।
पुलिस द्वारा की गई उक्त कार्यवाही पुलिस उप अधीक्षक सुश्री सोनाली गुप्ता के
                 नेतृत्व में थाना प्रभारी अमलाई विकास सिंह, थाना प्रभारी धनपुरी रत्नाम्बर शुक्ला, थाना प्रभारी गोहपारू ज्योति सिह सिकरवार, थाना प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार पटेल, थाना प्रभारी सोहागपुर योगेन्द्र सिंह परिहार, कार्यवाहक निरीक्षक समीर वारसी, थाना प्रभारी कलीराम परते, उप निरीक्षक सुभाष दुबे,  अजय सिंह, एसएन मिश्रा, उमाशंकर
                 चर्तुवेदी, सउनि राकेश बागरी, रजनीश तिवारी, रामराज पाण्डे, स्वतंत्र सिंह, हीरासिंह, सत्यप्रकाश मिश्रा एवं विशेष टीम के सदस्यों की उल्लेखनीय भूमिका रही।