किसानों को नगद में खाद दिलाने के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान से विधायक श्री सिसोदिया ने की चर्चा* 

9:51 pm or November 3, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर ३ नवंबर ;अभी तक;   सोसाइटी में खाद भरपूर होने के बाद भी वितरण व्यवस्था में आ रही दिक्कतों को लेकर वरिष्ठ विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने गुरुवार को दूरभाष पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा की और आग्रह किया कि सहकारिता के माध्यम से ऐसे किसानों को जो डिफाल्टर नहीं है उन्हें नगद राशि में  खाद उपलब्ध कराई जाए, इसके तुरंत बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर सचिव अशोक वर्णवाल ने विधायक सिसोदिया से चर्चा की और आश्वस्त किया कि आज ही इस महत्वपूर्ण मामले पर निर्णय लेकर किसानों को राहत प्रदान की जाएगी।
                                      खाद के लिए किसानों को आ रही समस्याओं के निदान को लेकर पिछले 3 दिनों से वरिष्ठ विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया पूरी गंभीरता के साथ जुटे हुए हैं । मंदसौर प्रवास पर आए जिले के प्रभारी मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव से भी उन्होंने कलेक्टर गौतम सिंह एवं अन्य प्रशासकीय अधिकारियों की मौजूदगी में किसानों को खाद को लेकर आ रही समस्याओं से अवगत कराया और उन्हें सुगमता से खाद उपलब्ध कराने का आग्रह किया।  इसके बाद आज विधायक श्री सिसोदिया ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से दूरभाष पर चर्चा की और आग्रह किया  कि फसलों का रकबा बढ़ा है इसलिए किसानों को खाद की भी अधिक आवश्यकता है। साथ ही पिछली कमलनाथ सरकार के कर्ज मुक्ति के वायदे के कारण आज कई किसान डिफाल्टर बन गए हैं इन किसानों के लिए भाजपा सरकार ने पूरक बजट में भी प्रावधान किया था कि ब्याज सरकार भरेगी किंतु वह राशि अभी तक जिला सहकारी बैंक में किसानों के खाते में जमा नहीं हुई है ।ऐसे में वे किसान डिफाल्टर की श्रेणी में आ रहे हैं इसके साथ ही जिन किसानों ने किसी भी प्रकार का कर्ज नहीं लिया है, अऋणी है वे भी  बाजार से महंगा खाद खरीदने के बजाय सोसायटियो के माध्यम से नगद में खाद खरीदना चाहते हैं।  इसलिए इन सभी किसानों को पावती के अनुसार एक तय मात्रा में सोसाइटी के माध्यम से खाद मिल जाए ऐसी व्यवस्था की जानी चाहिए।
                                         मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विधायक सिसोदिया को आश्वस्त किया और कहा कि आज शाम तक इस महत्वपूर्ण मामले में निर्णय लिया जाएगा ।श्री चौहान ने इसके साथ ही सचिव अशोक वर्णवाल को विधायक श्री सिसोदिया से चर्चा कर समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए ।
                                    श्री सिसोदिया ने बताया कि सचिव अशोक वर्णवाल को भ्रम था कि जो किसान कर्ज अदायगी नहीं कर रहे हैं वह नगद में खाद मांग रहे हैं ऐसे में श्री सिसोदिया ने वस्तुस्थिति से उन्हें अवगत कराया और कहा कि डिफाल्टर किसान नगद में खाद नहीं मांग रहे हैं बल्कि कमलनाथ सरकार के कर्ज मुक्ति के वायदे में जो किसान फंसे थे वह किसान सरकार के आश्वासन के कारण आज डिफाल्टर हैं और वह नगद में खाद मांग रहे हैं इसके साथ ही जिन किसानों ने कोई कर्ज नहीं लिया है वह नगद में खाद लेना चाहते हैं। इसलिए किसानों को खाद देनी चाहिए ताकि उन्हें बाजार में महंगे खाद को नहीं खरीदना पड़े ।श्री सिसोदिया ने चर्चा के बाद जिले के प्रभारी मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव से भी दूरभाष पर चर्चा की और उन्हें मुख्यमंत्री श्री चौहान और सचिव श्री वर्णवाल से हुई चर्चा के बारे में अवगत कराया। जिस पर प्रभारी मंत्री ने भी कहा कि कल ही पन्ना में उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा से  मंदसौर में किसानों की समस्याओं को लेकर जो विषय उन्हें बताए थे उस पर चर्चा की है आज इस पर महत्वपूर्ण निर्णय सरकार द्वारा लिया जाएगा।