केन्द्रीय जेल होशंगाबाद में निरूद्ध बंदियो एवं जेल स्टाफ का कराया जा रहा है शतप्रतिशत बीमा

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद २६ अक्टूबर ;अभी तक;  केन्द्रीय जेल होशंगाबाद में निरूद्ध सभी बंदियों एवं जेल स्टाफ का शतप्रतिशत बीमा कराने का लक्ष्य रखा गया है। जेल अधीक्षक केन्द्रीय जेल होशंगाबाद संतोष सोलंकी ने बताया है कि ऐसा करने वाला प्रदेश में यह पहला जेल है। उन्होने बताया है कि वर्तमान में जेल में 550दंडित बंदी एवं 350 हवालाती बंदी निरूद्ध है। वर्तमान में 400बंदियो के खाते विभिन्न बैंको में संचालित हो रहे है, इन बंदियो के खाते में प्रत्येक माह बंदी पारिश्रमिक की राशि जमा की जाती है,लगभग 301 बंदियो के स्वयं के खाते से माह सितम्बर/अक्टूबर2021 में प्रधानमंत्री जनधन बीमा योजना के अंतर्गत 330 रूपए की राशि जमा करवाकर बीमा करवाया गया है। बीमा कराने के क्या लाभ है, बंदियो को इसकी विस्तार से जानकारी दी जा रही है। बंदियो को प्रोत्साहित किया गया है कि वे भविष्य में रिहा होंगे तो अपने परिवार का भी बीमा जरूर कराए।

श्री सोलंकी ने बताया कि इस बीमा में बंदियो के परिजन जो नामित है बंदी की मृत्यु होने पर नामित को 2 लाख रूपए एवं अस्थाई विकलांग होने पर 50 हजार रूपए की राशि का लाभ प्राप्त होगा। इस योजना से जुड़ने के लिए लगभग 70 बंदियों का खाता अक्टूबर माह में विभिन्न बैंको में खुलवाए गए हैं। हवालाती बंदियो जिनका खाता है उनका भी प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत बीमा करवाए जाने की कार्यवाही विशेष रूचि लेकर की जा रही है। श्री सोलंकी ने बताया कि इससे पूर्व वर्ष 2015-16 में भी लगभग 160 बंदियो का बीमा करवाया गया था। उन बंदियो के परिजनो से पहचान पत्र – आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाईसेंस, वोटर आईडी आदि मंगवाकर खाता खोला जा रहा है। वर्तमान में लगभग 60 बंदियो के खाते खोलने की कार्यवाही की जा रही है।