केन्द्रीय परीक्षण संस्थान, इटारसी के स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर विशेष आवरण का विमोचन

सौरभ तिवारी 

होशंगाबाद १६ नवंबर ;अभी तक;   भारत सरकार रक्षा मंत्रालय के अधीनस्‍थ केन्द्रीय परीक्षण संस्थान इटारसी 18 नवंबर 2021 को अपना कार्यकाल का 50 वा वर्ष  में प्रवेश करने जा रहा है एवं संस्थान  का स्वर्ण जयंती वर्ष दिनांक 18 नवंबर 2021 से दिनाक 17 नवंबर 2022 मनाया जा रहा है इस अवसर को अविस्मरणीय बनाने के लिए भारतीय डाक विभाग के मार्गदर्शन में एक विशेष आवरण का विमोचन 18 नवंबर को सुबह 9.00 बजे सीपीई के प्रांगण में किया जा रहा है।

वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी पाल पी जार्ज ने बताया कि वर्ष 1962 में भारत और चीन के युद्ध के पश्चात देश में स्वदेशी रक्षा आयुध के उद्योग के विकास के दृष्टिगत प्रूफ फायरींग रेंज की आवश्यकता महसूस की गई, इस कार्य हेतु भारत के चारों कोनों में खोज करने के बाद मध्य भारत में प्रूफ रेंज के लिए मुख्य विकल्प मिला जिसके कारण इटारसी में केन्द्रीय परीक्षण संस्थान की स्थापना की गई।केन्द्रीय परीक्षण संस्थान की स्थापना के साथ ही प्रूफ का भार संस्थान पर बढ़ने लगा यह प्रूफ भार न केवल मात्रात्मक अपितु गुणात्मक रूप में भी था। आधुनिक परिष्कृत शस्त्र यंत्र के आवश्यक प्रूफ कार्य के लिये उन्नत साधन एवं संबध्द सुविधाएं इस संस्थान में उपलब्ध है। अत्याधुनिक शस्त्र जैसे के 9 बज्रा टैंक, टी-90 टैंक, धनुष गन, सारंग गन एवं पोखरण में पिनाका राकेट के तकनीकी परीक्षण के द्वारा देश की सेवा में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है।

कार्यक्रम में स्थापना के पिछले 50 वर्षों की महत्वपूर्ण उपलब्धियों व इतिहास डाक विभाग की सहायता से जारी किए गए विशेष आवरण पर संक्षिप्त रूप में दर्शाया गया है।

संस्थान के 50वें स्थापना दिवस के अवसर पर लें. जनरल आर के मल्होत्रा, गुणता आश्वासन महानिदेशक के करकमलों द्वारा मेजर जनरल दीपक सचदेव, अपर गुणता आश्वासन निदेशक, मेजर जनरल एस एस राजन, समादेशक, ब्रिगेडियर के जे सरवैया उप समादेशक, कर्नल प्रवीण कुमार सी. कर्नल तकनिकी, कर्नल प्रेम कुमार यादव, कर्नल (प्रशासन), श्री पॉल पी जार्ज, वरिष्ठ प्रशा अधिकारी, प्रशासनिक तथा तकनिकी विभाग के सभी अधिकारीगण एवं डाक विभाग के अधिकारियों की उपस्थिति में 18 नबम्बर 2021 को विशेष आवरण विमोचन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधि सादर आमंत्रित हैं।