केरल के प्रमुख मौलवी को जान से मारने की धमकी

मलप्पुरम (केरल), 28 दिसंबर ; ‘समस्त केरल जमीयतुल उलेमा’ संगठन के अध्यक्ष और प्रमुख सुन्नी मुस्लिम विद्वान ने कहा है कि उन्हें अज्ञात व्यक्तियों की ओर से जान से मारने की धमकी मिली है। सय्यद मुहम्मद जिफरी मुतुकोया थांगल ने कहा कि अज्ञात व्यक्तियों ने उन्हें फोन कर धमकी दी और कहा कि उनका वही हश्र होगा जैसा चेम्बरिका काजी सीएम अब्दुल्ला मौलवी का हुआ था।

मौलवी एक इस्लामी विद्वान थे जिनकी रहस्यमयी परिस्थितियों में मौत हो गई थी और उनका शव कासरगोड जिले में फरवरी 2010 में पाया गया था। थांगल ने कहा कि अगर उनकी मौत इसी प्रकार होगी तो उसके जिम्मेदार वे लोग होंगे जो उनके खिलाफ लिखते हैं।

थांगल ने जिले में सोमवार को एक शैक्षणिक संस्थान में एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए यह कहा। उन्होंने धमकी के मिलने के संबंध में किसी संगठन का व्यक्ति का नाम नहीं लिया। राज्य सरकार ने इस घटना को गंभीरता से लिया है और पुलिस को इसकी जांच करने का आदेश दिया है। राज्य के खेल मंत्री वी अब्दुर्रहमान ने थांगल को फोन किया और इस मामले में सरकार द्वारा उठाए गए कदम की जानकारी दी।

इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने कहा कि इस घटना से पता चलता है कि वाम शासन वाले राज्य में पुलिस विफल हो चुकी है।

आईयूएमएल के प्रदेश महासचिव पीएमए सलाम ने कहा, “लोगों के सामने कहने से पहले थांगल ने इसका खुलासा मुझसे किया था। धार्मिक नेताओं को भी अब जान से मारने की धमकी मिल रही है। इससे पता चलता है कि राज्य में कानून व्यवस्था धराशायी हो चुकी है।”