केशरवानी वैश्य नगर सभा ने बैठक में एकता का लिया संकल्प

1:35 pm or May 31, 2022
मोहम्मद सईद
शहडोल, 31 मई अभी तक। जिले के जयसिंहनगर में गत दिनों भव्यतापूर्ण सामाजिक बैठक कार्यक्रम में जयसिंहनगर के ज्येष्ठ व श्रेष्ठ एवं प्रबुद्ध केसरवानी बन्धुओं द्वारा समाज के प्रति समर्पित महेन्द्र गुप्ता को सर्वसम्मति से केसरवानी वैश्य नगर सभा जयसिंहनगर का अध्यक्ष चुना गया। कार्यक्रम में केसरवानी वैश्य सभा मध्यप्रदेश के महामंत्री  मनोज  गुप्ता और वरिष्ठ उपाध्यक्ष जे पी गुप्ता अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता रामधनी गुप्ता ने की।
                       कार्यक्रम का सफल संचालन बृजेश गुप्ता(करकी) एवं संजय गुप्ता(वरिष्ठ उपाध्यक्ष नगर सभा जयसिंहनगर) द्वारा किया गया। स्वागत गीत दिनेश गुप्ता (सेमरा) ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम मे बेनीमाधव गुप्ता, रामगरीब गुप्ता, रामबहोर गुप्ता, रमेश गुप्ता,  सत्यनारायण गुप्ता, राजेश गुप्ता (हीरो शो रूम), रघुनाथ दीन गुप्ता (केसरवानी वैश्य ग्राम सभा सेमरा अध्यक्ष), रमेश गुप्ता  उर्फ रम्मू,  हीरालाल गुप्ता, अजय कुमार गुप्ता(पूर्व अध्यक्ष केसरवानी वैश्य नगर सभा जयसिंहनगर), लक्ष्मी नारायण गुप्ता, लालजी गुप्ता (कनाडी), सुन्दर लाल गुप्ता (टेटका), रामजी गुप्ता,  सुरेश प्रसाद गुप्ता, रामकृष्ण गुप्ता, सुरेश प्रसाद गुप्ता उर्फ बध्धू एवं अन्य सामाजिक बन्धुओं की गरिमामय उपस्थिति थी।
                     अपने उद्बोधनों में मुख्य अतिथि व महामंत्री प्रदेश सभा मनोज गुप्ता, बृजेश गुप्ता,  संजय गुप्ता, बेनी माधव गुप्ता, सुन्दर लाल गुप्ता, जयसिंहनगर के नव निर्वाचित अध्यक्ष महेन्द्र गुप्ता, प्रदेश सभा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जे पी गुप्ता एवं अन्य वक्ताओं द्वारा विस्तृत प्रकाश डाला गया। जिसका सभा में सकारात्मक प्रभाव परिलक्षित हुआ, साथ ही सभासदों द्वारा सामूहिक स्वर से, एकता व अखंडता का संकल्प लिया गया। प्रदेश सभा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं महामंत्री द्वारा प्रदेश सभा द्वारा किए जा रहे सामाजिक उत्थान व विकास कार्यक्रमों की जानकारी सभा को अपने उद्बोधनों के माध्यम से दी गई। नवनिर्वाचित अध्यक्ष महेन्द्र गुप्ता का अंगवस्त्र, माला एवं श्रीफल से सम्मान किया गया।
                  लक्ष्मी नारायण गुप्ता द्वारा सभी के प्रति आभार प्रकट करते हुए आह्वान किया गया कि समाज के प्रति सभी तन-मन-धन के साथ-साथ अपना बहुमूल्य समय भी दें तभी समाज संगठित होगा व संगठन भी मजबूत होगा।