कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन के दोनों डोज बहुत जरूरी : मंत्री श्री डंग

महावीर अग्रवाल
मंदसौर 13 नवंबर ;अभी तक;  नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग मध्य प्रदेश शासन के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने ग्राम पंचायत घसोई व आम्बा में 55 लाख 60 हजार रुपए की लागत से निर्मित होने वाले कार्यों का भूमि पूजन व निर्मित कार्यों का लोकार्पण किया।
ग्राम पंचायत घसोई में घसोई में 37 लाख 65 हजार रूपये की लागत से निर्मित निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया। लोकार्पण एवं भूमि पूजन के अंतर्गत 12 लाख 85 हजार से निर्मित नवीन पंचायत भवन का लोकार्पण, 6 लाख की कुल लागत से निर्मित होने वाले तीन प्रवेश द्वार का भूमि पूजन, 7.80 लाख रुपए की लागत से निर्मित आंगनवाड़ी भवन का लोकार्पण एवं 11 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाले मांगलिक भवन का भूमि पूजन किया।
ग्राम पंचायत आम्बा में 17 लाख 95 हजार रूपये की लागत से निर्मित निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया। लोकार्पण एवं भूमि पूजन के अंतर्गत 12 लाख 85 हजार से निर्मित नवीन पंचायत भवन का लोकार्पण, 5 लाख 10 हजार रूपये से निर्मित होने वाले पेयजल पाइप लाइन एवं सामुदायिक स्वच्छता परिसर का भूमि पूजन किया।
लोकार्पण अवसर पर मंत्री श्री डंग द्वारा कहा गया कि कोविड से सुरक्षा के लिए वैक्सीनेशन के दोनों डोज लेना बहुत जरूरी है। तभी को कोरोना से सुरक्षा प्राप्त होगी तथा कोविड-19 चक्र निर्मित होगा। अगर किसी व्यक्ति ने पहला डोज लगा लिया है, लेकिन दूसरा डोज नहीं लगाया तो को सुरक्षा चक्र निर्मित नहीं होगा। इसके लिए दोनों डोज जरूर लगाएं। अगर दूसरे डोज की तारीख नजदीक है या निकल चुकी हैं, तो तुरंत नजदीकी सेंटर पर जाकर अपना दूसरा डोज लगाए। साथ ही दूसरे डोज के लिए अपने आसपास, पड़ोसी, मित्रों, परिवार वालों को भी प्रेरित करें, कि वह भी दूसरा डोज जरूर लगवाएं। अगर किसी का दूसरा डोज छूट जाता है, तो कोविड-19 का खतरा बराबर बना रहेगा।
सरकार ने हमेशा लगातार क्षेत्र में विकास के कार्य किए हैं। कोविड-19 में आर्थिक संकट होने के पश्चात भी विकास कार्यों में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी। आने वाले समय में यह विकास की प्रक्रिया लगातार चलेगी। जबकि और चौमुखी विकास होगा। सरकार ने गरीब, किसान, बेसहारा, मजदूर एवं हर तबके के व्यक्ति का साथ दिया है। उनके साथ हाथ से हाथ मिला कर उनकी राहें आसान की है। ऐसे बहुत से बेरोजगार व्यक्ति है जिन्हें रोजगार प्राप्त नहीं हो रहा था, सरकार ने महत्वपूर्ण जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से ऐसे लोगों को रोजगार प्रदान किया है तथा आज वे हंसी खुशी अपना जीवन जी रहे हैं।