कोविड पीडित आठ वर्षीय बालक की उपचार के दौरान मौत

श्याम त्रिवेदी।

झाबुआ 26 मार्च २६ मार्च ;अभी तक ;  कोविड की चपैट मे आने से एक आठ वर्षीय मासूम बच्चे की मौत हो गई। पीडित बच्चे का उपचार इंदोर के चोईथराम हाॅस्पिटल मे चल रहा था। इसी दौरान गुरूवार को उसकी मौत हो गई। कोरोना से इतने छोटे बच्चे की मौत नगर की पहली घटना है। दुखद खबर से सभी स्तब्ध हो गए। नगर के कई धार्मिक-सामाजिक संगठनों ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए शौक संवेदना व्यक्त की है।

स्थानीय निवासी अमित बृजवानी के आठ साल के बच्चे की कुछ दिनों से तबियत खराब चल रही थी। जिसका उपचार स्थानीय स्तर पर करवाया जा रहा था। तबीयत मे सुधार न होने पर परिवार के सदस्य इंदोर के टी. चोईथराम हाॅस्पिटल ले गए। यहां जांच के दौरान पता चला की बच्चे को लंग्स मे इंन्फेक्शन है। ओर काॅविड पाॅजिटीव भी है। पिछले तीन चार दिनों से बच्चे का उपचार चल रहा था। श्री ब्रिजवानी के पारिवारिक सदस्य व मित्र अर्पित तिवारी ने बताया कि दो दिन पूर्व ही उन्होंने बच्चे की तबियत के बारे मे बच्चे के पिता से जानकारी ली थी। तब उन्हें बताया गया था की स्थित गंभीर है। श्री तिवारी ने बताया कि उपचार के दौरान ही गुरूवार को बच्चे ने अंतिम सांस ली ओर उसकी मौत हो गई।

दुखद घटना कि जानकारी जैसे ही नगर मे आमजन को मिली सभी स्तब्ध हो गए। राजगढ नाका मित्र मंडल के शेलेष दुबे, राजवाडा मित्र मंडल के दीपक भंडारी, गायत्री परिवार के एस एस पुरोहित, श्रीराम शरणम के सुशील शर्मा, हरीश शाह  लाला, सुनिल कटकानी, श्याम जोशी, विवेक पेंटर, जैमिनी शुक्ला, जितेन्द्र पांचाल, घनश्याम भाटी सहित नगर के कई सामाजिक धार्मिक संगठनों के पदाधिकारियों ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए परिवार के प्रति शौक संवेदना व्यक्त की है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *