क्रशर संचालक कर रहे मनमानी, कलेक्टर ने खनिज कर्मचारियों को लगाई फटकार

9:47 pm or May 7, 2022
मोहम्मद सईद
शहडोल 7 मई ; अभी तक। जिले के खनिज अधिकारी के कुम्भकर्णी नींद में सोने या यूं कहें कि क्रशर खदान की ओर आंख मूंद लेने के कारण जिले में क्रेशर संचालक मनमर्जी कर रहे हैं। ऐसा ही मामला कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य द्वारा किए गए निरीक्षण में सामने आया है। क्रेशर संचालक की मनमानी को देख कलेक्टर श्रीमती वैद्य ने मौके पर मौजूद खनिज कर्मचारियों को जमकर फटकार भी लगाई।
ग्रामीणों ने की थी शिकायत
जनपद पंचायत ब्यौहारी क्षेत्र के ग्रामीणों ने विगत दिनों कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्रीमती वंदना वैद्य से मिलकर शिकायत की थी कि ब्यौहारी क्षेत्र के भमरहा एवं मऊ के क्रेशर खदानों द्वारा खनिज का अवैध उत्खनन एवं परिवहन किया जा रहा है। जिससे ग्रामीणों को बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत को संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य ने शनिवार को जनपद पंचायत ब्यौहारी के ग्राम भमरहा एवं मऊ क्षेत्र का भ्रमण कर क्रेसर खदानों का आकस्मिक निरीक्षण किया।
संचालक ने नहीं दिखाए दस्तावेज
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्रीमती वैद्य ने क्रेशर खदान के संचालक से क्रेशर खदान के कागज तथा सीमा के संबंध में जानकारी प्राप्त की। जिस पर क्रेशर खदान के संचालकों द्वारा कागज मुहैया नहीं कराया गया तथा स्पष्ट रूप से क्रेशर की सीमा क्षेत्र इत्यादि की भी जानकारी प्रदान नहीं की गई। जिस पर कलेक्टर श्री वैद्य ने खनिज निरीक्षक ब्यौहारी पुष्पेंद्र त्रिपाठी तथा खनिज अमले पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए फटकार लगाई तथा क्रेशर खदानों की जांच कर तत्काल जांच रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान अनुविभागीय अधिकारी ब्यौहारी नरेंद्र सिंह धुर्वे और तहसीलदार अभयानंद शर्मा सहित खनिज विभाग एवं राजस्व विभाग का अमला भी मौजूद था।