खनिज के अवैध उत्खनन मामले में 10 करोड़ 12 लाख 50 हजार की शास्ति अधिरोपित

मयंक भार्गव

बैतूल, 07 अक्टूबर ;अभी तक;  कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिला खनि अधिकारी द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन के आधार पर स्वीकृत स्थल पर उत्खनन न कर अन्य स्थल पर अवैध उत्खनन करने वाले आरोपी पर 10 करोड़ 12 लाख 50 हजार रूपए राशि की शास्ति अधिरोपित की है।

जिला खनि अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार हरदा जिले की खिरकिया तहसील के ग्राम जिनवानिया निवासी श्री तेजबहादुर शाह पिता भारत शाह को बैतूल जिले की तहसील चिचोली के ग्राम हर्रई में स्वीकृत लीज भूमि खसरा नंबर 69/10, 77, 78 कुल रकबा 1.284 हे. है, लेकिन उनके द्वारा खसरा नं. 72 से अवैध उत्खनित 67500 घन मीटर खनिज पत्थर का प्रथम बार उत्खनन किया जाना पाते हुए उस पर मप्र गौण खनिज नियम 1996 के नियम 53 (1) के तहत उक्त खनिज की देय रायल्टी का तीस गुना यानि 10 करोड़ 12 लाख 50 हजार शास्ति अधिरोपित की गई है। साथ ही खान एवं खनिज अधिनियम 1957 की धारा 21(1) एवं (2) के तहत कार्यवाही हेतु अधिकारिता रखने वाले मजिस्ट्रेट के समक्ष श्री तेजबहादुर शाह के विरूद्ध तत्काल परिवाद प्रस्तुत करने के आदेश दिए गए हैं।

जिला खनि अधिकारी ने बताया कि प्रकरण में जप्तशुदा पोकलेन मशीन को तीन लाख 56 हजार नगद खजाना दाखिल करने एवं 10 लाख 68 हजार की बैंक गारंटी प्रस्तुत करने पर अंतरिम सुपुर्दनामा छोड़े जाने हेतु तत्कालीन पीठासीन अधिकारी द्वारा आदेश पारित किया गया था, परन्तु इसका पालन संबंधित द्वारा नहीं किया गया। इसलिए उक्त जप्तशुदा पोकलेन मशीन (हुंडई कंपनी का मॉडल आर215एल) का उन्मोचन परिवाद की सुनवाई करने वाले न्यायालय के निर्णय के अध्ययीन होगा।