खरीदी की चाक चौबंद व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें : कमिश्नर मालसिंह, किसानों को कोई असुविधा ना हो,इसका विशेष ध्यान रखें 

9:56 pm or November 18, 2021

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद १८ नवंबर ;अभी तक;  संभाग के तीनों जिले में आगामी खरीफ उपार्जन की सभी आवश्यक तैयारियां समय सीमा में सुनिश्चित की जाए। खरीदी कार्य में किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो इसका विशेष ध्यान रखें। यह निर्देश कमिश्नर नर्मदापुरम मालसिंह ने सभी संभागीय उपार्जन संबंधी अधिकारियों को दिए हैं। गुरुवार को कमिश्नर नर्मदापुरम की अध्यक्षता में कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में संभागीय उपार्जन समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कमिश्नर ने संभाग के तीनों जिले में खरीदी ,परिवहन एवं भंडारण आदि तैयारियों की विस्तार से समीक्षा की।

 

 खरीदी केंद्रों पर ठोस व्यवस्थाएं रहे

सभी उपार्जन संबंधी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि तीनों जिले में निर्धारित खरीदी केंद्रों पर तौल कांटे, कंप्यूटर्स ,बारदाने आदि लॉजिस्टिक्स के साथ आवश्यक मानव संसाधन की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। बारदानो के गुणवत्ता की जांच कर सर्टिफिकेट लिया जाए। केंद्रों पर किसानों के लिए पेयजल, छाव ,स्वच्छता आदि की भी उपयुक्त व्यवस्था सुनिश्चित करें।

 

 परिवहन एवं भंडारण की समुचित व्यवस्था की जाए,अस्थाई भंडारण की भी व्यवस्था करें

कमिश्नर श्री मालसिंह ने कहा कि उपार्जित माल के परिवहन में नियोजित की जाने वाले वाहनों का आरटीओ के माध्यम से फिटनेस जांच की जाना सुनिश्चित कराएं। नियुक्त परिवहनकर्ता को सुचारू रूप से परिवहन के लिए पाबंद करें। तीनों जिले में अनुमानित उपार्जित रकबे के अनुसार भंडारण की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। साथ ही अस्थाई भंडारण की आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें।

 एसएमएस की व्यवस्थित शेड्यूलिंग करें

बैठक में कमिश्नर ने किसानों को खरीदी के लिए भेजे जाने वाले एसएमएस प्रक्रिया की विस्तार से समीक्षा की । उन्होंने खाद्य विभाग को निर्देशित किया की शासन द्वारा निर्धारित मापदंड के अनुरूप किसानों को समय पर एसएमएस प्रेषित हो इसका विशेष ध्यान रखें। एसएमएस प्रक्रिया की व्यवस्थित शेड्यूलिंग की जाए।

 किसानों को समय पर भुगतान हो

संभाग के तीनों जिले में किसानों को उपार्जित की गई उपज का सुचारू रूप से भुगतान सुनिश्चित किया जाए। किसानों को भुगतान में अनावश्यक देरी ना हो इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही उपार्जन कार्य में लगे श्रमिकों को समय पर पारिश्रमिक दिया जाना सुनिश्चित करें।

 खरीदी कार्य की सघन मॉनिटरिंग की जाए, लापरवाही पर होगी कड़ी कार्यवाही

 कमिश्नर श्री मालसिंह ने कहा कि उपार्जन कार्य में लगे सभी संबंधित विभागों के अमले को आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाए,ताकि व्यवस्थित रूप से धान खरीदी कार्य संपन्न हो सके। सभी वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा खरीदी कार्य की मौके पर सघन मॉनिटरिंग की जाएं। कमिश्नर ने सभी संभागीय अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि वह अपनी जिम्मेदारियों को गंभीरता से निभाएं, किसी भी स्तर पर लापरवाही की दशा में कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

 29 नवंबर से 15 जनवरी तक होगी धान खरीदी

बैठक में बताया गया कि शासन द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार संभाग के तीनों जिले में 29 नवंबर से 15 जनवरी 2022  तक धान खरीदी कार्य किया जाएगा। मोटे अनाजों की खरीदी 22 नवंबर से 21 दिसंबर 2021 तक की जाएगी। बताया गया कि खरीदी के लिए शासन द्वारा धान कॉमन का 1940 रुपए, ज्वार हाइब्रिड का 2738 रूपए एवं बाजरे का 2250 रुपए समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया हैं। खरीफ विपणन वर्ष 2021 22 अंतर्गत होशंगाबाद में 34846, हरदा में 1518 एवं बैतूल  में 8167 इस प्रकार कुल संभाग में 44531 किसानों ने धान खरीदी के लिए पंजीयन कराया है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष पंजीयन में 192 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। धान खरीदी के लिए होशंगाबाद में 81 खरीदी केंद्र , बैतूल में 17 एवं हरदा में 3 इस प्रकार संभाग में 101 खरीदी केंद्र बनाए गए हैं।

बैठक में संयुक्त आयुक्त श्री जी सी दोहर, संयुक्त संचालक कृषि बी एल बी एल बिलैया सहित संभागीय उपार्जन संबंधी अधिकारी उपस्थित रहे।