खुदकुशी के दूसरा मौका सफल : सुसाइड नोट में बताया आबकारी महिला एएसआई को जबाबदेह, सुसाईड नोट सोशल मीडिया पर वायरल

मयंक शर्मा

खंडवा ११ सितम्बर ;अभी तक;  आबकारी विभाग खंडवा में पदस्थ महिला उपनिरीक्षक की प्रताड़ना से तंग आकर बुधवार रात मेें  अपने ही घर  के एक कमरे में युवक राजू जमरे निवासी रेहटफल, (झिरनिया जिला खरगोन) ने फांसी लगाकर  आत्महत्या कर ली।अगले दिन गुरुवार सुबह परिजन ने उसे फंदे पर लटका हुआ देखा।

झिरन्या थाना प्रभारी जीएस सेमलिया ने  बताया कि सुसाइड नोट 10 दिन पहले  खुदकुशी के असफल प्रयास  दौरान लिखा था, जिसकी जांच की जा रही है। दोषी पाए जाने पर उपनिरीक्षक  पर कार्रवाई की जाएगी

सोशल मीडिया पर मृतक का कथित सुसाइड नोट वायरल हो रहा है। इसमें महिला  आबकारी सब इंस्पेक्टर पर झांसा देने का आरोप है। ये सब इंस्पेक्टर खंडवा में पदस्थ बताई जा रही है।  सुसाइड नोट में अपने परिजनों व दोस्तों से इस महिला को सजा दिलाने की गुहार लगाई है।  खंडवा एसपी  से मामले में दखल देने की गुजारिश की गई है। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।।  जमरे को भीकनगांव जयस का अध्यक्ष भी रहा है। बुधवार को दिनभर सोशल मीडिया पर जयस के सदस्य  और उसकेे साथी उसे श्रद्धांजलि दे रहे थे। दूसरी ओर सोशल मीडिया पर ही चार पेज का सुसाइड नोट  वायरल हुआ। वायरल 4 पेज के सुसाईड नोट में विस्तार से बताया गया है कि महिला आबकारी सब इंस्पेक्टर  ने कैसे राजू को अपने झांसे में लिया।

मामले में झिरन्या थााना प्रभारी जेएस सेमलिया ने बताया कि मृतक ने सुसाईड नोट में  लिखा हेै कि मेरी मौत की जिम्मेदार आबकारी उपनिरीक्षक वंदना मोरे है। वह मुझे एक साल से प्रताड़ित कर  रही है। मृतक का आरोप था महिला उपनिरीक्षक ने उससे शादी का वादा किया और पत्नी की तरह रहने  लगी थी। पुलिस के अनुसार पत्र में उसने यह भी कहा कि इस बीच मृतक की समाज की सजातीय  युवती से  उसकी शादी होने वाली थी लेकिन उपनिरीक्षक ने युवती से मिलकर मना करवा दिया। प्रताडना का क्रम जारी   रखा। उसके 15 से 20 लाख रुपए खर्च हो चुके है। पुलिस के अनुसार सुसाईट नोट मेें राजू ने यह लिखा है  कि … अब जिंदगी में कुछ नहीं बचा है।उसने वंदा मोरे को जिम्मेदार बताते हुये  उसके खिलाफ अपराधिक  प्रकरण दर्ज करने की मिन्नत की है। 4 पेज का सुसाइड नोट है।
मृतक के परिजन ने बताया कि  कुछ दिन पहले भी  कीटनाशक पीकर  आत्महत्या का प्रयास किया था। लेकिन बच गया। 2 दिन पहले राजू की अस्पताल से छुट्टी हुई थी। परिजन  के अनुसार महिला अधिकारी द्वारा उसे जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। इसलिए मानसिक रूप से  प्रताड़ित होकर उसने आत्महत्या का मन बना लिया था जिसे बुधवार रात में अंजाम भी दे दिया।

0 ये लिखा सुसाइड नोट में
खंडवा जिले की महिला सब इंस्पेक्टर ने पिछले 10 माह मुझे शादी का झांसा दिया। खर्चे करवाती रही। उस  पर मैंने 12 से 15 लाख रुपए खर्च कर दिए। एसयूवी गाड़ी का डाउन पेमेंट मैंने भरा। 13 अगस्त से उसे  कॉल कर रहा हूं पर कॉल अटेंड नहीं कर रही। इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं। इसको मैं इंदौर शॉपिंग  कराने ले जाता था। 20 से 25 हजार रुपए तक खर्च करता था। उसका और मेरा कॉल रिकॉर्ड और  एसएमएस चेक कर लेना। जांच में सब सामने आ जाएगा। खंडवा एसपी साहब से निवेदन है कि मेरी दोषी  को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

 

 

 


Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *