गांवों में तैयार होंगे खिलाड़ी, ग्राम पंचायतों में फुटबाल क्लब का गठन

9:31 pm or October 13, 2021
गांवों में तैयार होंगे खिलाड़ी, ग्राम पंचायतों में फुटबाल क्लब का गठन
मोहम्मद सईद
शहडोल, 13 अक्टूबर ; अभी तक ;  संभाग के कमिश्नर राजीव शर्मा द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में नवाचार किया जा रहा है। इसी कड़ी में उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र की खेल प्रतिभाओं को निखारने की दिशा में भी कदम उठाया है। लुप्त हो रहे फुटबॉल के खेल को जीवित करने और फुटबॉल के खिलाड़ी तैयार करने के लिए कमिश्नर श्री शर्मा ने विशेष पहल की है। इस पहल के चलते शहडोल जिले की सभी ग्राम पंचायतो में फुटबाल क्लब का गठन किया गया है। इस पहल के सकारात्मक परिणाम भी मिल रहे है। गठित इन फुटबाल क्लब के सदस्यों द्वारा खेल गतिविधियों का संचालन भी किया जा रहा है। शहडोल में फुटबाल क्लब का गठन कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य के मार्गदर्शन और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मेहताब सिंह के निर्देशन में किया गया है। शहडोल जिला संभवतः प्रदेश का पहला ऐसा जिला है जहां ग्राम पंचायतों में फुटबॉल क्लब का गठन किया गया है।
पंचायत स्तरीय हुई प्रतियोगिता
संभाग के युवाओं को  खेल गतिविधियों से जोड़कर उन्हें शारीरिक रूप से सशक्त बनाने  के उददेश्य से कमिश्नर श्री शर्मा द्वारा प्रारंभ की गई, इस अभिनव पहल की कड़ी में अनूपपुर जिले की तहसील पुष्पराजगढ के ग्राम पंचायत बीजापुरी में गत दिवस अंतर ग्राम पंचायत स्तरीय फुटबाल क्लबों के मध्य फुटबाल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था, जिसमें  क्षेत्र के लगभग 40 ग्राम पंचायतों के फुटबाल क्लबों ने भाग लेकर अपने खेल कौशल का प्रदर्शन किया था।
शारीरिक रूप से सक्षम युवा होंगे तैयार
कमिश्नर शहडोल संभाग राजीव शर्मा ने बताया कि, शहडोल संभाग में ग्राम पंचायत स्तर पर फुटबाल क्लबों का गठन करने का मुख्य उददेश्य शहडोल संभाग के युवाओं की ऊर्जा को सकारात्मक दिशा देना है। उन्होंने बताया कि, सेना, पुलिस एवं अन्य अर्द्वसैनिक बलों की भर्तियों में शारीरिक रूप से सक्षम एवं सशक्त युवाओं की आवष्यकता होती है। उन्होंने बताया कि, गांवों में फुटबाल क्लबों के गठन से शारीरिक रूप से सक्षम युवा तैयार होंगे तथा उनकी भागीदारी सेना, पुलिस और अर्द्व सैनिक बलों की भर्ती में सुनिश्चित होगी।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *