ग्रामीण विकास कार्यों में लापरवाही पर 04 कर्मचारियों पर निलंबन की कार्यवाही

5:27 pm or January 14, 2022

आनंद ताम्रकार

बालाघाट १४ जनवरी ;अभी तक;

कलेक्टर डा. गिरीश कुमार मिश्रा ने गढ़ी क्षेत्र के ग्रामों का भ्रमण कर ग्रामीण विकास के कार्यों का निरीक्षण किया और जल जीवन मिशन के कार्यों व सड़क के कार्य में लापरवाही पाए जाने पर जिम्मेदार उपयंत्रियों को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं।
                       गढी क्षेत्र की ग्राम पंचायत, स्कूल, आंगनबाडी, धान उपार्जन केन्द्र एवं गढी में आयोजित मेडीकल केम्प आदि के भ्रमण के दौरान कलेक्टर  द्वारा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा पूर्ण बतायी गई नल से जल  प्रदाय आंगनबाडी एवं शालाओं का भ्रमण किया गया। ग्राम पंचायत कुकर्रा के पंचायत टोला आंगनबाडी में हेंण्ड पंप से टंकी तक के पाईपों की फिटिंग ओपन पायी गई। जबकी  पूर्व में पाईपों को क्रांक्रीट से ढकने के निर्देश दिये गये थे। आंगनबाडी केन्द्र चुचरूंगपुर में वास बेसिंन नही पाया गया, पीने के पानी के प्लेटफार्म में टोटी (नल) नही लगे हुये थे। योजना बंद थी। आंगनबाडी केन्द्र ब्राम्हणटोला में पीने के पानी के प्लेटफार्म में नल नही थे। पानी की सप्लाई कनेक्ट नही थी, वास बेसिन नही पाया गया। आंगनबाडी केन्द्र कटंगटोला में हेण्ड पंप से टंकी तक की सप्लाई बंद थी। पीने के पानी के प्लेटफार्म में टोटियां एवं वास बेसिन नही पाया गया। आंगनबाडी केन्द्र बडाटोला में आधा ईन्च के पाईप से सप्लाई देना पाया गया।
                       ग्राम पंचायत पोण्डी-गढी में आंगनबाडी केन्द्र में नल टूटे हुये पाये गये, सेन्सर नही लगा पाया गया। हाई स्कूल पोण्डी गढ़ी में भी नल टूटे हुये पाये गये। आंगनबाडी केन्द्र अलना में पीने के पानी का प्लेटफार्म निर्धारित माप दण्ड के अनुसार भी नही पाया गया, वास बेसिन की फिटिंग भी ठीक नही पायी गई। ग्राम पंचायत परसामउ की शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय प्लेट फार्म ठीक से (लिकेज) बना नही पाया गया। उसी परीसर में स्थित आंगनबाडी में बिजली वायर की फिटिंग खुली पायी गई एवं हेण्ड पंप से टंकी तक के कनेक्शन के पाईप के लिये किये गये गडढे को पूर्णतः भरा नही गया एवं कुछ जगह पाईप उपर जमीन पर दिखायी दिये। ग्राम पंचायत पाण्डूतला के महुआटोला आंगनबाडी में योजना अधुरी पायी गई, प्लेट फार्म अधुरा पाया गया, प्लेटफार्म पर टाईल्स नही पायी गई, वास बेसिन में नल कनेक्शन नही दिया गया। सभी आंगनबाडी केन्द्र एवं स्कूलों में पानी के प्लेट फार्म एवं वास बेसिन के निकलने वाले वेस्ट वाटर के निपटारे की समुचित व्यवस्था नही पायी गई।
                 इस लापरवाही के लिये अनुविभागीय अधिकारी लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री एस.सी.नाग की 2 वेतन वृद्धि रोके जाने के निर्देश दिये गये एवं उपयंत्री एच. के उके के निलंबन किये जाने के निर्देश दिये गये।
                  कलेक्टर द्वारा सर्वोदय अजिविका स्वः सहायता समूह द्वारा संचालित धान उर्पाजन केन्द्र गढी का भ्रमण किया गया, इस केन्द्र की संचालिका प्रेमा दीदी द्वारा बताया गया कि उन्हे एक दिन में 400 क्विंटल तक के ही एस.एम.एस. भेजने के निर्देष है। इस सीमा को बढाने के लिये समूह द्वारा बार-बार  वरिष्ट अधिकारियों से निवेदन किया गया। इस लापरवाही के लिये कलेक्टर  द्वारा जिला परियोजना प्रबंधक श्री ओमप्रकाश बेदुआ एवं श्रीमती रष्मि मेश्राम जिला प्रबंधक कृषि को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देष दिये गये।
                     🪴🙏 कलेक्टर द्वारा धान उर्पाजन केन्द्र परसामउ का भ्रमण किया गया। केन्द्र पर गंभीर लापरवाही पायी गई जिसके कारण धान केन्द्र प्रभारी श्री ओमकार बिसेन को निलंबित किये जाने के निर्देश दिये गये तथा कम्प्यूटर ऑपरेटर श्री महेश कुमार धुर्वे को निलंबित करने के निर्देश दिये गये।
उपयंत्री सर्व शिक्षा अभियान द्वारा नल से जल प्रदाय स्कूल, आंगनबाड़ियों के निरीक्षण में गंभीर लापरवाही की गई एवं कमियों से अवगत नही कराया गया। जिसके कारण उपयंत्री श्री प्रवीण पारासर को निलंबित किये जाने का निर्देष दिये गये।
                  मुख्य मार्ग से अतरचूहा (आमगहन) की ओर जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क का लगभग 200 मीटर डामरीकरण नही पाया गया एवं सड़क मापदण्डों के अनुरूप नही पायी गई। कलेक्टर द्वारा प्रबंधक प्रधानमंत्री सड़क को कारण बताओं सूचना पत्र दिये जाने के निर्देष दिये गये।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *