चंद्रमा की किरणों के बीच बटा अमृतमय खीर का प्रसाद

7:28 pm or November 1, 2020
चंद्रमा की किरणों के बीच बटा अमृतमय खीर का प्रसाद

महावीर अग्रवाल

मंदसौर,1 नवंबर , अभीतक । मन्दसौर जिला सेन समाज द्वारा श्री सत्यनारायण मंदिर खानपुरा में शरद पूर्णिमा महोत्सव धूमधाम से मनाया।
प्रारंभ में लाभार्थी परिवार फकीरचंद परिहार, डॉ. घीसालाल गंगवाल ने सत्यनारायण भगवान, सेनजी महाराज एवं मां नारायणी माता की पूजन अर्चन व आरती की। तत्पश्चात् भगवान को खीर का भोग लगाकर सभी समाज बंधुओं ने खीर प्रसादी ग्रहण की।
इस अवसर पर समाज अध्यक्ष फकीरचंद परिहार ने शरद पूर्णिमा के महत्व के बारे में बताते हुए कहा कि आयुर्वेद में शरद ऋतु व शरद पूर्णिमा का स्वास्थ्य के लिये बड़ा महत्व बताया गया है। चन्द्रमा कि किरणे जब खीर पर पड़ती है तो दूध अपने में चन्द्रमा की किरणों को अवशोषित कर लेता है अर्थात खीर पर अमृत वर्षाा हो जाती है और इस खीर को खाने से कई बिमारियों से निजात मिलती है।
इस दौरान समाज के वरिष्ठ कमल बी मारोठिया, दिनेश गेहलोत, सत्यनारायण मारोठिया, युवा साथी अक्षय गेहलोत, शैलेंद्र, अजय, आदित्य, अंकुश, शुभम मारोठिया, संजय सकवाया, व्यवस्थापक भरत बैरागी आदि उपस्थित थे। अंत में आभार ब्रजेश सेन मारोठिया ने माना।

चंद्रमा की किरणों के बीच बटा अमृतमय खीर का प्रसाद

चंद्रमा की किरणों के बीच बटा अमृतमय खीर का प्रसाद

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *