चंबल अटल प्रोग्रेस-वे बनने से इस क्षेत्र के विकास के द्वार खुलेंगे – मुख्यमंत्री श्री चैहान  

देवेश शर्मा
मुरैना 10 सितम्रर ;अभी तक; मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चैहान ने आज यहां कहा है कि चंबल अटल प्रोग्रेस-वे बनने से इस क्षेत्र का विकास तेजी से होगा और बड़ी संख्या में उद्योग धंधे खुलेंगे, जिससे क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिलेेगा। उन्होंने कहा कि चंबल अटल प्रोग्रेस-वे से क्षेत्र का चहुमुखी विकास होगा। इससे कृषि, उद्योग, शिक्षा एवं पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चैहान आज जिले के दिमनी विधानसभा क्षेत्र के ग्राम रतीरामपुरा में आमसभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 88 करोड़ से अधिक की लागत के विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया।
              समारोह में केन्द्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री  ऐदल सिंह कंषाना, कृषि राज्यमंत्री  गिर्राज डण्डोतिया, भी साथ थे।
                 मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि अभी जितनी गर्मी पड़ रही है, उससे अधिक गर्मी मुरैना एवं भिण्ड जिलों के युवाओं के खून में होती है। चंबल क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में सेना में भर्ती होकर देश की रक्षा करतेे है। वे लड़ाई के समय दुश्मन की छाती छलनी कर देते है। इसलिये हमारे देश की तरफ कोई आंख उठाकर नहीं देख सकता है। यदि किसी ने गलत हरकत की तो उसका सेना ने मुंह थोड़ जबाव दिया है। उन्होंने कहा कि चंबल की माटी में जन्में मुरैना जिले के ग्राम बरबाई निवासी शहीद पंडित रामप्रसाद बिस्मिल ने स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में अंग्रेजों को सबक सिखाया था।
                    मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि निकट भविष्य में प्रदेश में बड़ी संख्या में विभिन्न विभागों में भर्ती होगी। सरकार ने निर्णय लिया है कि अब नौकरी में मध्यप्रदेश के ही युवाओं की भर्ती की जायेगी। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने अनेक जनकल्याणकारी योजनाओं को ठंडे बस्ते में डाल दिया था, इन्हीं योजनाओं को वर्तमान सरकार ने पुनः शुरू किया है। जिसमें संबल योजना, तीर्थ दर्शन योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना एवं अन्य योजनायें शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में जो भी बिजली के बिल आयें है, उनका भुगतान सरकार करेगी। उपभोक्ताओं को चालू माह से बिल भुगतान करना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गरीब परिवारों को पात्रता पर्ची दी जायेगी। जिसके माध्यम से 1 रूपये किलो गेहूं दिया जायेगा। ताकि प्रदेश में कोई गरीब भूखा न रहे। उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि यह सुनिश्चित करें जिले में कोई पात्र व्यक्ति गेहूं से वंचित न रहे। पथ विक्रेताओं के संबंध में उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में बिना ब्याज के 10 हजार रूपये का ऋण सरकार दे रही है। इसी प्रकार की सहायता ग्रामीण क्षेत्रों में भी पथ विक्रेताओं के लिये लागू की गई है। उन्होंने बताया कि किसानों के कल्याण के लिये शीघ्र ही सरकार द्वारा उनके खाते में फसल बीमा की 4 हजार 600 करोड़ रूपये की राशि डाली

 

 

 

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *